बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की अध्यक्ष मायावती आज गुजरात के उना में कथित गौरक्षा के नाम पर भगवा संगठनों द्वारा पीटे जाने वालें पीड़ित युवकों व उनके परिवार वालों से आज अहमदाबाद में मुलाकात करने जा रही हैं.

बसपा प्रमुख ने इस बारे में बयान जारी कर कहा कि वे काफी पहले गुजरात के गिर सोमनाथ जिले के उना जाकर दलितों के पीड़ित परिवार वालों से मिलकर उनसे सहानुभूति प्रकट करना चाहती थी, लेकिन बीजेपी उन्हें वहां नहीं जाने देने के लिए कई प्रकार के षड्यंत्र करती रही.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने आगे कहा कि बीएसपी ने इस मामले को संसद के बाहर व संसद में राज्यसभा में काफी मजबूती से उठाया और इस कारण बीजेपी ने जानबूझ कर एक राजनीतिक षड्यंत्र के तहत उत्तर प्रदेश में अपने एक वरिष्ठ नेता से मेरे खिलाफ अभद्र व अपशब्द कहलवा कर, पार्टी को उलझाने का प्रयास किया, ताकि उना कांड से लोगों का ध्यान हटाया जा सके. इसी कारण उना दौरा उन्हें स्थगित करना पड़ा था

मायावती ने क,हा पीड़ित परिवार व गांव के अन्य लोगों ने हमारी पार्टी पर भरोसा जताया है. पीड़ितों का कहना है कि बसपा मुखिया मायावती संसद में व्यस्त हैं. इसलिए उन्हें उना आने की जरूरत नहीं है. उन्होंने आगे कहा ‘हम अहमदाबाद जाकर स्वयं ही उनसे मिलेंगे और उनका धन्यवाद करेंगे. इसी कारण गुरुवार को अहमदाबाद के दौरे पर मैं उना कांड के पीड़ितों के साथ-साथ पीड़ित परिवार वालों से भी अहमदाबाद में ही मिलूंगी.

Loading...