सिंबल ऑफ़ लव यानि प्यार की निशानी के तौर पर दुनिया भर में प्रसिद्ध ताजमहल को गंदी राजनीति के चलते नफरत की भेंट चड़ा दिया गया है. बीजेपी नेता संगीत सोम की और से शुरू हुआ ये विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है.

अब उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और समाजवादी नेता आज़म खान ने बीजेपी को निशाने पर लेते हुए कहा कि भाजपा अगर ताजमहल गिरा देगी तो 2019 का चुनाव भी जीत जाएगी. उन्होंने संगीत सोम को लेकर कहा कि जो मीट का कारोबार करता है वो ताजमहल को गाली देता है.

आजम ने कहा की गुलामी की सारी निशानिया मिटा देनी चाहिए. आज ताजमहल को लेकर पूरी दुनिया में चर्चा है कि कैसे लोग हैं की जो मोहब्बत की निशानी को मिटाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि ताजमहल के नाम से अगर हिन्दू-मुस्लिम झगड़ा होता है तो ऐसे ताजमहल की कोई जरूरत नहीं है. भाजपा ने जिस तरह पिछले चुनाव में बाबरी मस्जिद को मुद्दा बनाकर जीता उसी तरह से फिर भाजपा चुनाव जीत सकती है. जब बाबरी मस्जिद का मामला सुप्रीम कोर्ट में था, तब बाबरी मस्जिद को गिरा दिया गया था, अभी ताजमहल पर तो कोई केस भी नहीं है.

उन्होने कहा, बेटी पढ़ाओ, नारी सुरक्षा और प्यार जैसा शब्द उनके लिए सिर्फ ढिंढौरा है, जिसके अपने पत्नी- बच्चे नहीं होते, वो प्यार का अर्थ क्या जानेगा ? वह क्या जानें मोहब्बत होती है. सीएम आदित्यनाथ योगी द्वारा अयोध्या में मनाई गई दीवाली को लेकर उन्होंने कहा कि दीवाली मनाओं हमें कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन ईद मनाने वालों के घर जलाकर रोशनी ना की जाए.

सपा नेता ने कहा, अच्छा होता जिस तरह दीवाली मनाई उसी तरह ईद भी मनाते, क्रिसमस और अन्य धर्मों के त्योहार मनाने की घोषणा भी करते.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें