नई दिल्ली | उत्तर प्रदेश में बीजेपी की प्रचंड जीत के बाद विपक्षी दलों की काफी प्रतिक्रिया आ रही है. कोई इसे ईवीएम् की गड़बड़ी बता रहा है तो कोई मुस्लिम वोटो का धुर्विकरण. हालांकि बीजेपी का दावा है की उसको प्रदेश में सभी वर्गों का समर्थन मिला है. केन्द्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद का कहना है की तीन तलाक पर मोदी सरकार के रुख की वजह से मुस्लिम महिलाओ ने बीजेपी को वोट दिया है.

विपक्ष दल और बीजेपी के तर्कों के परे AIMIM मुखिया असुदुद्दीन ओवैसी का कुछ और ही नजरिया है. उनका मानना है की उत्तर प्रदेश में बीजेपी की जीत एक खास फैसला है. यह कब्रिस्तान पर शमशान की जीत है. इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2017 में बोलते हुए असुदुद्दीन ने बीजेपी की जीत को विशेष बताते हुए कहा की ये नतीजे सिर्फ कुछ के विकास के लिए नतीजे थे, न की सबके विकास के लिए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

असुदुद्दीन ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा की बीजेपी सभी को एक तरफ चलने को मजबूर कर रही है जो हमें मंजूर नही है. इसलिए मैं कह रहा हूँ की यूपी में कब्रिस्तान और शमशान की लड़ाई में शमशान जीत गया. ओवैसे ने प्रधानमंत्री मोदी पर वोटो के धुर्विकरण का आरोप लगाते हुए कहा की उन्होंने रैली में कब्रिस्तान और शमशान का जिक्र कर वोटो के धुर्विकरण का प्रयास किया जिसमे वो सफल भी रहे.

उधर इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने भी अपने विचार रखे. पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने जब महबूबा से पुछा की मोदी लहर में क्षेत्रीय पार्टी ध्वस्त होती जा रही है, ऐसे में आप खुद को बचा पायेंगे? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा की कुछ भी स्थाई नही होता. एक दिन मोदी लहर भी खत्म हो जाएगी. कांग्रेस के पास भी एक समय 400 सीटें थी, हम उनका हश्र देख चुके है.

Loading...