नई दिल्ली | 23 अप्रैल को हुए एमसीडी चुनाव के नतीजे आने शुरू हो गए है. ताजा रुझानो में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिलता दिखाई दे रहा है. वही आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच दुसरे नम्बर के लिए जंग हो रही है. हालाँकि यह अभी रुझान है लेकिन स्थिति लगभग स्पष्ट हो चुकी है की दिल्ली की तीनो नगर निगमों में बीजेपी प्रचंड बहुमत के साथ वापिस लौट रही है.

रविवार को नगर निगम की 270 सीटो पर हुए मतदान में से लघभग सभी सीटो के रुझान आ गए है.  अभी तक के रुझानो के मुताबिक बीजेपी 179 , आप 42 , कांग्रेस 35 और अन्य 14 सीटो पर आगे चल रही है. हालाँकि दिल्ली नगर निगम में 272 सीट है लेकिन बाकी बची दो सीटो पर अभी मतदान नही हुआ है. कुछ इसी तरह के रुझान की उम्मीद , दो दिन पहले आये एग्जिट पोल में भी लगाए गए थे.

जहाँ बीजेपी इस जीत से उत्साहित लग रही है वही आम आदमी पार्टी के खेमे में हलचल दिखाई दे रही है. एमसीडी चुनावो के रुझानो में पिछड़ने के बाद दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया , मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल से मिलने पहुंचे. खबर है की दोनों के बीच एमसीडी चुनावो के नतीजो को लेकर चर्चा हुई. खुद मनीष सिसोदिया के विधानसभा क्षेत्र पटपडगंज में आम आदमी पार्टी की हार हुई है जो चिंता का विषय है.

उधर बीजेपी ने इन नतीजो को अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ जनादेश बताते हुए उनसे इस्तीफे की मांग की. दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष और बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने कहा की केजरीवाल राईट टू रीकॉल की बात करते थे, इसलिए एमसीडी में हारने के बाद उनको इस्तीफा दे देना चाहिए. उधर आप के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने एमसीडी नतीजो को मोदी लहर मानने से इंकार करते हुए कहा की यह मोदी लहर नही बल्कि ईवीएम् लहर है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?