Saturday, October 23, 2021

 

 

 

बीजेपी ने अपनी विफलता छिपाने के लिए उठाया राष्ट्रवाद का मुद्दा

- Advertisement -
- Advertisement -

कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर आज आरोप लगाया कि उसने पिछले 22 माह के शासन की विफलता को छिपाने के लिए राष्ट्रवाद का हौव्वा खड़ा किया है।

कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में की गयीं टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि देश की दुर्गति करने की किसी भी कीमत पर इजाजत नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि‘भारत माता की जय’के नारे पर कोई विवाद नहीं है लेकिन भाजपा इसे जबरन राष्ट्रवाद का लिटमस टेस्ट बनाने की कोशिश कर रही है।

राष्ट्रवाद का हव्वा 

उन्होंने कहा कि भारत माता की जय, मेरा भारत महान और जय हिन्द एक ही भावना के परिचायक है। उन्होंने कहा कि जब नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने जय हिन्द और भगत सिंह ने इन्कलाब जिन्दाबाद के नारे लगाये थे तो क्या वे भारत की जय के नारे लगाने वालों से कम देशभक्त थे।

तिवारी ने कहा कि राष्ट्रवाद का हौव्वा खड़ा करने का एकमात्र मकसद राजग सरकार की 22 माह की विफलताओं को छिपाना है चाहे वह आर्थिक मोर्चे की बात हो या फिर महंगाई या विदेश नीति का मामला हो। उन्होंने कहा कि यह विडम्बना है कि छद्म राष्ट्रवादी देश में राष्ट्रवाद की ठेकेदारी करने लग गये हैं।

देश को बांटने का प्रयास

कांग्रेस ने महाराष्ट्र विधानसभा से एआईएमअईएम विधायक को निलंबित करने के मामले में अपनी भूमिका को आज अधिक तवज्जो नहीं दी किन्तु भाजपा को आगाह किया कि भारत माता की जय के नारे के मुद्दे पर देश को बांटने का प्रयास करना खतरनाक है। पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी ने यहां संवाददाताओं से कहा कि भारत माता की जय, जय हिन्द, मेरा भारत महान एक ही भावना की अभिव्यक्ति हैं।

इस अग्निपरीक्षा के आधार पर देश को विभाजित करने का प्रयास राष्ट्रवाद को कमतर करना है। यह भारत के लिए खतरनाक है। उन्होंने ध्यान दिलाया कि भावना को प्रकट करने के लाखों तरीके हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि किसी खास तरह से काम नहीं करने वाले को राष्ट्र विरोधी करार देते के प्रयास उचित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि जब नेताजी ने जयहिन्द कहा और भगत सिंह ने इंकलाब जिंदाबाद कहा तो क्या वे भारत माता की जय कहने वालों से कम थे। (hindkhabar)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles