ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMAIM) के अध्यक्ष और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने गुजरात में उत्तर भारतियों के साथ हो रही मारपीट और वहां से उनके पलायन के मामले में भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है।

ओवैसी ने कहा कि गुजरात से उत्तर भारतीय लोगों का बड़े पैमाने पर पलायन तथा राज्य में रह रहे प्रवासी श्रमिकों में डर का माहौल गुजरात में कानून और व्यवस्था को बनाये रखने में भाजपा नीत सरकार की विफलता के अलावा कुछ और नहीं है। उन्होंने कहा कि गुजरात की भाजपा सरकार को प्रवासी श्रमिकों में विश्वास पैदा करने और उनकी पूरी सुरक्षा व्यवस्था का पूरा इंतजाम करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, जो भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का समर्थन करते हैं, को गुजरात में अपने राज्यों के लोगों से मिलना चाहिए, ताकि प्रवासियों के बीच आत्मविश्वास पैदा हो सके और उनकी घर वापसी की सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित हो सके।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीं वरिष्ठ समाजवादी नेता शरद यादव ने गुजरात में उत्तर भारतीय लोगों पर हो रहे हमले की निंदा करते हुए इसे राज्य की बीजेपी सरकार की नाकामी बताया। उन्होंने कहा कि हिंदी भाषियों को गुजरात में सुरक्षा दे पाने में विफल रहे राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को तत्काल इस्तीफ़ा दे देना चाहिए।

शरद यादव ने मंगलवार को एक बयान में कहा, “गुजरात सरकार अपने ही देश के नागरिकों को विशेष रूप से हिंदीभाषी लोगों को सुरक्षा देने में विफल रही है, इसलिए इस सरकार को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए.”

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है कि बिहार, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों के श्रमिक वहां से पलायन करने को मजबूर हैं. वो भी ऐसे श्रमिक जो बीते कई सालों से गुजरात को अपनी सेवाएं देते आ रहे थे. यादव ने कहा ‘‘हैरानी की बात यह है कि केंद्र और राज्य में बीजेपी की सरकारें हैं फिर भी दूसरे राज्यों के श्रमिक सुरक्षित नहीं हैं.’

Loading...