Monday, July 26, 2021

 

 

 

मुस्लिम बहुल इलाके के मतदाताओं को बीजेपी अध्यक्ष ने बताया दंगाई

- Advertisement -
- Advertisement -

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के प्रचार अब ध्रुवीकरण की और बढ़ता जा रहा है। मुंबई ईकाई के भाजपा अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा ने मुस्लिम बहुल इलाके के मतदाताओं को दंगाई  बताकर बड़ा विवाद पैदा कर दिया है।

बुधवार को मुम्बा देवी में एक सभा को संबोधित करते उन्होंने कांग्रेस मतदाताओं को दंगाई और बम फोड़ने वाला बताया। उन्होंने मुबंई में आंतकी हमलों और दंगों का उदाहरण देते हुए कहा कि बम और गोलियों का निर्माण पांच किलोमीटर के दायरे में किया गया था।

लोढ़ा निर्वाचन क्षेत्र में शिवसेना उम्मीदवार पांडुरंग सकपाल के लिए एक रैली में हिस्सा लेने के पहुंचे थे। रैली को संबोधित करते हुए लोढ़ा ने कहा, ‘आप ये भी याद रखिए कि 1992 के बाद इस मुंबई में कितने में बम ब्लास्ट हुए। कितनी गोलियां चलीं, कितने बम के धमाके हुए… ये सारा उद्योगस्थान कहां पर है? ये सारा उद्योगस्थान यहां के आपके पांच किलोमीटर की गलियों के अंदर है… और उनके वोटों के….उनका साथ लेकर, जो व्यक्ति चुनके आएगा वो आपका आने वाले समय में क्या ध्यान रखेगा।’

bjp

रैली में शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे भी शामिल हुए थे, जो लोढ़ा के भाषण के बाद कार्यक्रम में पहुंचे। उल्लेखनीय है कि भाजपा नेता लोढ़ा ने अपने भाषण के दौरान किसी कॉलोनी का नाम नहीं लिया हालांकि आसपास के इलाकों में डोंगरी और नागापाड़ा एक बड़ी मुस्लिम आबादी रहती है।

लोढ़ा ने कहा कि चूंकि केंद्र, राज्य और नगर निगम में शिवसेना-भाजपा गठबंधन की सरकारें हैं इसलिए मतदाताओं को मुंबई को सुरक्षित रखने के लिए गठबंधन को वोट देना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर आप अमीन पटेल को वोट देते हैं, तो यह आप और हम पर बोझ होगा, जिसके लिए हम खुद को माफ नहीं कर पाएंगे। उन्होंने कहा, ‘बीच के अंदर ये जो झण्डा लहराएगा…तो हमारे लिए कैसे स्वीकार्य होगा।’

अपने भाषण के दौरान लोढ़ा ने यह भी आरोप लगाया कि पटेल सिर्फ एक विशेष समुदाय का ध्यान रखेंगे। उन्होंने कहा, ‘अब तो नगाड़ा बज ही चुका है, सरहद पर शैतान का, तो नक्शे पर से नाम मिटा तो पापी पाकिस्तान का।’ इसी बीच भाजपा-शिवसेना उम्मीदवार पांडुरंग सकपाल ने कहा कि लोढ़ा की टिप्पणी उनकी व्यक्तिगत विचारों और अनुभवों पर आधारित हो सकती है।

उन्होंने कहा, ‘मैं निजी तौर पर किसी समुदाय में भेदभाव नहीं करता। मैं सभी मतदातओं के लिए काम करता हूं और भविष्य में भी ऐसा होगा। मैंने कभी भी हिंदू-मुस्लिमों क्षेत्रों के बीच विभाजन नहीं किया और सभी क्षेत्रों से अच्छी प्रतिक्रियाएं मिलती रही हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles