इंदौर । मीटू अभीयान ने भारत में केस क्षेत्रों में भूचाल ला दिया है। बॉलीवुड से लेकर राजनीतिक क्षेत्र में कई बड़ी हस्तियों के चेहरे बेनक़ाब हो रहे है। नाना पाटेकर से शुरू हुआ यह अभियान रोज़ नए नए नामो को उजागर कर रहा है। जहाँ देश में इस अभियान को एक बड़े स्तर पर समर्थन मिल रहा है वही कई लोग टाइमिंग को लेकर महिलाओं की मंशा पर भी सवाल उठा रहे है।

ख़ासकर 19 राज्यों और केंद्र में बैठी भाजपा के नेता इस अभियान को लेकर अजीब बयान दे रहे है। पहले भाजपा सांसद उदित राज ने इस पर सवाल उठाए तो अब इस कड़ी में एक और भाजपा विधायक का नाम जुड़ गया है। इन्होंने शिकायतकर्ता पर यह आरोप लगाया की वो सफलता पाने के लिए शॉर्ट कट अपना रहे है। मालूम हो कि केंद में मंत्री एमजे अकबर पर भी कई महिला पत्रकारों ने यौन शोषण के आरोप लगाए है।

मध्य प्रदेश के इंदौर से भाजपा विधायक उषा ठाकुर ने मीटू अभियान पर बेहद ही अजीबो ग़रीब बयान दिया है। ख़ुद महिला होते हुए उन्होंने महिलाओं की मंशा पर ही सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने कहा,’ महिलाएं निजी स्वार्थों के लिए नैतिक मूल्यों से समझौता करती हैं। समझौता करने के चलते ही महिलाएं समस्याओं में फंसती हैं। जीवन मूल्यों से समझौता कर पाई गई सफलता निरर्थक है।’

उषा ठाकुर यही नही रुकी। उन्होंने कहा कि महिलायें सफलता पाने के लिए शॉर्ट कट अपनाती है। एमजे अकबर के ऊपर लगे आरोपो के बाद उनके इस्तीफ़े की माँग पर उषा ठाकुर ने कहा की यह कोई हल नही है। बताते चले की भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी एमजे अकबर पर यह बयान दे चुके है की हम पहले ये देखेंगे की लगाए गए आरोपो में कितनी सत्यता है। इसलिए अभी तक एम जे अकबर ने अपने पद से इस्तीफ़ा नही दिया है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano