Tuesday, June 28, 2022

अलवर: गौ रक्षकों के समर्थन में आई बीजेपी, भाजपा विधायक ने की रिहाई की मांग

- Advertisement -

कथित गौरक्षा के नाम पर बेदर्दी से मारे गए अकबर के मामले में वसुंधरा सरकार का दोहरा चेहरा सामने आ रहा है। एक तरफ सरकार दोषियों पर कार्रवाई करने की बात कह रही है तो दूसरी और गौरक्षकों की रिहाई की भी बात की जा रही है।

भाजपा विधायक ज्ञान देव आहूजा ने गृहमंत्री ने जब पीड़ित की मौत हिरासत में होना स्वीकार कर लिया है और मामले की न्यायिक जांच की घोषणा कर दी है, तो ऐसे में गिरफ्तार किये गये गो रक्षकों को तत्काल प्रभाव मुक्त किया जाना चाहिए।

आहूजा ने कहा, ‘गृहमंत्री ने गो तस्करी मामले में अकबर खान की मौत पुलिस हिरासत में होना स्वीकार कर लिया है। जब गृह मंत्री ने इस मामले में पुलिस की लापरवाही एवं पीड़ित की मौत पुलिस हिरासत में होना स्वीकार कर लिया गया है तो निर्दोष गो रक्षकों और ग्रामीणों को क्यों आरोपी बनाया जा रहा है? उन्हें तत्काल प्रभाव से मुक्त किया जाना चाहिए।’

83 cownew 5

अकबर की हत्या के मामले में 3 गौरक्षकों को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही चार पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। रामगढ़ थाने के सहायक पुलिस उप निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया और तीन कांस्टेबल को पुलिस लाइन भेजा गया है।

बता दें कि शुक्रवार रात को मृतक अकबर खान दोस्त असलम के साथ लालवंडी के पास एक जंगल से गाय लेकर गुजर रहा था,  तभी गौरक्षकों ने उन पर हमला किया था। हमलावरों द्वारा अकबर को बुरी तरह से पीटा जाने से उसकी मौत हो गर्इ थी। वहीं उसका साथी असलम किसी तरह से अपनी जान बचाकर भागने में सफल रहा।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles