सूरत | गुजरात में एक बीजेपी विधायक ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर बेहद अजीब मांग की है. उन्होंने अपने विधानसभा क्षेत्र के एक इलाके में डिस्टर्बड एरिया एक्ट लागू करने की मांग की है. जिसके बाद हिन्दुओ के पड़ोस में मुस्लिमो के घर खरीदने पर रोक लग जायेगी. विधायक का आरोप है की मुस्लिम , हिन्दुओ के पड़ोस में घर खरीदने के लिए कई प्रकार की चालाकी करते है. यही नही वो हिन्दू परिवारों को धमकाते भी है.

बीजेपी विधायक की इस अजीब मांग के बाद इस मुद्दे पर गुजरात की राजनीती भी गरमा गयी. विपक्षी दलों ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा की प्रदेश में तुष्टिकरण की राजनीती की जा रही है जो गलत है. हालाँकि विधायक ने अपनी मांग का बचाव करते हुए कहा की उन्हें इस इलाके में रहने वाले लोगो ने अपना प्रतिनिधि चुना है इसलिए उनकी समस्याओ को हल करना मेरा कर्त्तव्य है, जो मैं निभा रही हूँ.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल बीजेपी विधायक संगीता पाटिल ने जिला अधिकारी को पत्र लिखकर अपने लिम्ब्यात क्षेत्र में डिस्टर्बड एरिया एक्ट लागु करने की मांग की है. पाटिल ने इसके पीछे की वजह बताते हुए कहा की हिन्दुओ के पड़ोस में रहने के लिए मुस्लिम हर प्रकार की चालाकी कर रहे है. अगर इसके बाद भी उन्हें घर नही मिलता तो वो हिन्दू परिवारों को धमकाते है और उन्हें डरा धमकाकर उनका घर खरीद लेते है. मैं हिन्दुओ के खिलाफ किसी भी तरह की हिंसा रोकने के लिए इस एक्ट को लागु करने की मांग कर रही हूँ.

पाटिल ने आगे कहा की सूरत का लिम्बयात इलाका पहले हिन्दू बहुल हुआ करता था. लेकिन अब यहाँ मुस्लिमो की आबादी ज्यादा है. इसके अलावा भी कई ऐसी सोसाइटी है जो पहले हिन्दु बहुल हुआ करती थी लेकिन आज यहाँ मुस्लिमो का प्रभुत्व है. इनमे  गोविंद नगर, भारती नगर, मदनपुरा और भावना पार्क जैसे हिन्दू नाम वाली सोसाइटी भी शामिल है.

Loading...