अलीगढ | पश्चिम बंगाल में हनुमान जयंती के मौके पर हिन्दू जागरण मंच के लोगो पर लाठीचार्ज करने का मामला तुल पकड़ता जा रहा है. बीजेपी ने ममता सरकार के इस रवैये को तानाशाही करार देते हुए कहा की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सरकारी तंत्र का दुरूपयोग कर रही है. इसके अलावा एक बीजेपी नेता ने दो कदम आगे बढ़ते हुए ममता बनर्जी के सर काट कर लाने वाले को इनाम देने की घोषणा की.

अलीगढ के बीजेपी यूथ विंग के नेता योगेश वार्षण ने ममता बनर्जी के रवैये पर हैरानी जताते हुए कहा की अब बंगाल में हनुमान जयंती मानाने से भी रोका जा रहा है. इसलिए जो भी व्यक्ति ममता बनर्जी का सर काटकर लाएगा उसे 11 लाख रूपए का इनाम दिया जाएगा. अपने आप में ये पहला मौका है जब किसी राजनितिक दल के नेता ने इस तरह की घोषणा हो.

बताते चले की मंगलवार को पश्चिम बंगाल के बीरभूम में हनुमान जयंती के मौके पर पुलिस और हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्ताओ की बीच हाथापाई शुरू हो गयी. जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. इस लाठीचार्ज में हिन्दू जागरण मंच के कई कार्यकर्त्ता घायल हो गए. दरअसल मंगलवार सुबह हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्त्ता ‘जय श्री राम’ के नारे लगाते हुए सूरी नगर की सडको पर आ गए.

हिन्दू जागरण मंच हनुमान जयंती के मौके पर सूरी नगर में जुलुस निकालना चाहता था लेकिन पुलिस ने इसकी इजाजत नही दी. इसके बावजूद भी कार्यकर्त्ता मंगलवार सुबह सडको पर उतरे. सूरी बस स्टैंड के पास पुलिस ने कार्यकर्ताओ को रोकना चाह तो वो पुलिस के साथ हाथापाई पर उतर आये. जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. इसके बाद से इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई है. इसलिए पूरे इलाके में रैपिड एक्शन फाॅर्स बुलाकर तैनात कर दिया गया है.

उधर बीजेपी नेता और केन्द्रीय गृह मंत्री किरण रिजीजू पश्चिम बंगाल के दौरे पर है. उन्होंने ममता बनर्जी के रवैये को तानाशाही करार देते हुए कहा की ममता बनर्जी सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग विपक्षी दलों के खिलाफ कर रही है. हालाँकि ममता बनर्जी का कहना है की बीजेपी और आरएसएस मिलकर राज्य के सोहार्दपूर्ण माहौल में संप्रदायिकता का जहर घोलने की कोशिश कर रही है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें