यूपी, हरियाणा और मध्य प्रदेश सहित कई राज्यों में बीजेपी कथित लव जिहाद पर कानून लाने जा रही है। इसी बीच छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीजेपी नेताओं पर निशाना साधा है। उन्होने सवाल उठाया कि नया कानून उन बीजेपी नेताओं पर लागू होगा या नहीं? जिसने दूसरे धर्म में शादी की है।

भूपेश बघेल ने कहा, “दुर्भाग्य है कि जो सार्वजनिक उपक्रम जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी ने शुरू किए थे वो सब निजी हाथों में जा रहे हैं। इसका नुकसान देश को हो रहा है। अब (केंद्र सरकार) सिर्फ हिंदू मुसलमान और ट्रिपल तलाक में लगे हैं और अब लव जिहाद आ गया। लव जिहाद आ गया तो जाति से बाहर शादी करने वालों पर कानून बनाने की बात हो रही है।”

उन्होंने कहा, “बीजेपी के उन नेताओं पर लव जिहाद लागू होता है कि नहीं जिन्होंने दूसरे धर्म में शादी की है। मुरली मनोहर जोशी हैं, सुब्रमण्यम स्वामी हैं, आडवाणी जी हैं। इन लोगों पर लव जिहाद कानून लागू होता है या नहीं…पहले तो यही पूछना चाहिए। ये सिर्फ बांटने का काम रहे हैं। लोगों को कैसे जोड़ना है, कैसे बढ़ाना, इस पर काम नहीं हो रहा है।”

इससे पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री शोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने लव जिहाद शब्द बीजेपी की ईजाद करार देते हुए कहा था कि बीजेपी ने ये शब्द राष्ट्र को विभाजित करने के लिए गढ़ा है।

गहलोत ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि लव जिहाद भाजपा द्वारा राष्ट्र को विभाजित करने और सांप्रदायिक,सद्भावना को बिगाड़ने के लिए निर्मित शब्द है। उन्होंने कहा कि विवाह व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला है। इस पर अंकुश लगाने के लिए एक कानून लाना पूरी तरह से असंवैधानिक है। यह कानून किसी भी अदातल में खड़ा नहीं होगा। लव में जिहाद का कोई स्थान नहीं होता।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano