भाजपा सांसद के खिलाफ एफ़आईआर दर्ज, कोरोना से जुड़ी अफवाह फैलाने का आरोप

bjp

पश्चिम बंगाल पुलिस ने गुरुवार को भाजपा सांसद सुभाष सरकार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। उनपर सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए जूठी अफवाह फैलाने का आरोप है। उन्होंने दो शवों के अंतिम संस्कार को लेकर अफवाह फैलाई।

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेता जयदीप चट्टोपाध्याय की और से दर्ज कराई गई शिकायत में कहा गया कि भाजपा सांसद ने सोशल मीडिया पर कहा कि अधिकारियों से दो शवों का दाह संस्कार करने में गलती हुई है। उन्होंने दावा किया कि मृतकों की मौत कोरोना वायरस की वजह से हुई है।

टीएमसी नेता ने कहा, ‘सांसद खुद एक डॉक्टर हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि बिना किसी रिपोर्ट (दोनों मृतकों में से किसी की भी) को देखे, उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए कोविड-19 महामारी के समय में अफवाह फैलाने की कोशिश की।’ इस पर पलटवार करते हुए बीजेपी के सांसद ने कहा, ” टेस्ट रिपोर्ट आने से पहले ही प्रशासन ने शवों का अंतिम संस्कार कैसे कर दिया।”

यहां के सरकारी अस्पताल में जिन दो लोगों की मौत हुई थी। उनका अंतिम संस्कार प्रशासनिक अधिकारियों ने 12 अप्रैल की आधी रात को करवा दिया था। इसके खिलाफ कुछ लोगों ने प्रदर्शन किया था। उनका दावा था कि दोनों की मौत कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से हुई है।

गौरतलब है कि बंगाल में कोरोना वायरस से तीन और लोगों की मौत होने की खबर है। मृतकों की संख्या बढ़कर 10 हो गई है। बीते 24 घंटे में बंगाल में 24 और नए कोरोना संक्रमित मरीजों का पता चला है। राज्य के मुख्य सचिव राजीव सिन्हा ने बताया कि बंगाल में अभी तक 144 कोरोना के एक्टिव केस हैं। 9 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गई है।

विज्ञापन