कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि बीफ निर्यात करने वालों ने ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साल 2014 के चुनाव प्रचार के लिए फंडिंग की थी।

न्यूज 18 को दिए एक इंटरव्यू में दिग्विजय सिंह ने कहा कि 2014 के चुनाव प्रचार से पहले प्रधानमंत्री मोदी भारत में बीफ के निर्यात की ओर इशारा करते हुए गुलाबी क्रांति कहा करते थे। उन्होने कहा ‘2014 चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने अपने हिंदू दोस्तों की बात की थी, जो बीफ का निर्यात करते हैं। उन्ही दोस्तों ने बीजेपी के कैंपेन की फंडिंग की थी। इस सरकार में अब बीफ का निर्यात बढ़ गया है।’

Loading...

बीजेपी की चुनावी फंडिंग में बीफ निर्यातकों के पैसे के सवाल पर उन्होने कहा कि चुनाव आयोग की वेबसाइट पर कैंपेन फंड करने वालों की सूची है। वहां ये नाम आसानी से मिल जाएंगे। उन्होंने ये भी कहा, ” गौ रक्षकों ने कानून को अपने हाथों में लेना शुरू कर दिया है। वे मासूम लोगों की पीट—पीटकर हत्या कर रहे हैं और उन लोगों से पैसा ऐंठ रहे हैं जो पशु कारोबारी हैं।”

दूसरी और बीफ निर्यात में मोदी सरकार ने इतिहास रच दिया है। दरअसल, बीफ निर्यात में भारत अब विश्व में पहले स्थान पर है। भारत अब 27 हजार करोड़ रुपये प्रतिवर्ष का बीफ निर्यात कर रहा है।

अमेरिका के एग्रीकल्चर एक्सपोर्ट डिपार्टमेंट ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि मोदी सरकार बनने के बाद पिछले साल अक्टूबर में भारत से बीफ एक्सपोर्ट 5% बढ़कर 20 लाख टन हो गया था। वहीं अब भारत बीफ निर्यात में विश्व में पहले स्थान पर पहुंच गया है। भारत में बीफ के सालाना कारोबार की रकम करीब 27 हजार करोड़ रुपये है।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें