Friday, September 17, 2021

 

 

 

मुस्लिमों को नजरअंदाज करने पर भड़के कुरैशी, बोले – मुसलमान कांग्रेस का गुलाम….

- Advertisement -
- Advertisement -

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी पार्टी नेतृत्व की और से मुस्लिमों को नजरअंदाज किए जाने पर बुरी तरह से भड़क उठे है। उन्होने कहा कि मुसलमान कांग्रेस का गुलाम नहीं है।

दरअसल, मध्य प्रदेश के झाबुआ उपचुनाव के लिए पार्टी ने 40 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की है। इसमें एक भी मुसलमान नहीं है। कुरैशी ने इस पर गहरी नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का प्रदेश और केंद्रीय ईकाई इस बात को समझ ले कि मुसलमान उनका गुलाम नहीं है।

कुरैशी ने कहा, “कुछ नेता नेहरू-गाँधी खानदान को गुमराह कर रहे हैं और वहीं लोग पार्टी के इस बिखराव के लिए जिम्मेदार हैं।” उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और मिजोरम के राज्यपाल रहे कुरैशी ने कहा कि मध्यप्रदेश और केंद्रीय नेतृत्व को यह बात अच्छी तरह जान लेना चाहिए कि मुसलमान उनका गुलाम नहीं है और न ही दिहाड़ी मजदूर। उन्होंने कहा है कि अब और अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

कांग्रेस नेता ने कहा कि उन्हें ये देखकर 1977 की याद आ गई, जब इंदिरा गाँधी ने कांग्रेस (आई) की स्थापना की थी और सभी कांग्रेसियों से साथ देने की अपील की थी।कुरैशी ने कहा उस समय डीपी मिश्रा, डॉ. शंकरदयाल शर्मा, प्रकाश चंद सेठी, श्यामचरण शुक्ल और गोविंद नारायण सिंह जैसे नेताओं ने उनका विरोध किया था। इस मुश्किल वक़्त में सिर्फ़ वही इंदिरा गाँधी के साथ खड़े थे। उनके अनुसार उन्होंने ही जेल भरो आंदोलन की शुरुआत करके गिरफ्तारी भी दी थी।

कुरैशी ने पार्टी नेतृत्व को पिछले चुनावों की याद भी दिलाई। उन्होंने कहा कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव में मुसलमान ही कांग्रेस का साथ देते हैं। लेकिन नेतृत्व यह भूल गया है। आज वह भाजपा के हिंदुत्व विचाराधारा के समर्थकों को खुश करने में जुटी है। इसके लिए मुसलमानों को नजरंदाज किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles