समाजवादी पार्टी में मचे घमासान के शांत हो जाने पर यूपी में सपा के कद्दावर नेता आजम खान ने कहा कि अखिलेश भी हमारे हैं और नेताजी भी हमारे हैं. हमारे दोनों हाथों में लड्डू हैं.

रामपुर में बुधवार को सपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “पार्टी, निशान और रिश्ते, सभी बच गए. इसमें हमने पुल का काम किया. हमेशा इत्तेहाद (एकता) की कोशिश की. एसपी कार्यकर्ता पार्टी में चल रही कलह से परेशान थे. हमारी और आपकी दुआएं काम आईं. मामला सुलझ गया.”

आजम खान ने कहा, “हम पार्टी बनाने वालों में से हैं. जब तक दुनिया रहेगी, समाजवादी सोच जिंदा रहेगी. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव हमें बहुत प्रिय हैं. नेताजी से भी मेरे रिश्ते अच्छे हैं.”

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि रामपुर में हमने अच्छे दिन दिए, लेकिन जिन लोगों ने इसका वादा किया था, वे तो क्षेत्र में नजर तक नहीं आते हैं. उन्होंने कहा, “हमने नवाबों से मेडिकल कॉलेज के लिए खासबाग मांगा था, लेकिन उन्होंने नहीं दिया. फिर भी, मेडिकल कॉलेज बना और काफी बड़े क्षेत्र में बना जो खूबसूरत है.”


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें