मौलाना सैयद कल्बे जव्वाद द्वारा भ्रष्टाचार के आरोप लगाये जाने पर सपा नेता आजम खान ने  पलटवार करते हुए कहा उनका किसी वक्फ से व्यक्तिगत तौर पर कोई वास्ता नहीं है. इसी के साथ उन्होंने कल्बे जव्वाद नकवी, मोहसिन रजा नकवी और एजाज अब्बास नकवी को आज का मीर जाफर करार दिया.

उन्होंने कहा, जब वो मंत्री थे तो कल्बे जव्वाद अपने दामाद को शिया वक्फ बोर्ड का चेयरमैन बनाना चाहते थे. उन्होंने कहा, बिना किसी चीज को प्रमाणित तौर पर साबित किए, मेरी छवि को बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है. मेरा किसी वक्फ से व्यक्तिगत तौर पर कोई वास्ता नहीं है. रामपुर पब्लिक स्कूल की बनने वाली इमारत, अनाथालय और स्कूल ट्रस्ट की मिल्कियत है, व्यक्तिगत नहीं. हम बच्चे-बच्चियों को पढ़ाना चाहते हैं.

आजम खान ने आगे कहा, ये सारे नकवी साहेबान हमारे इस मिशन, काफिले को बर्बादी के रास्ते पर ले जाना चाहते हैं. हमारे शिक्षा के उस मिशन को जिसकी प्रेरणा हमें सर सैयद से मिली.

याद रहे कल्बे जव्वाद ने मेरठ में वक्फ बोर्ड की जमीन में 400 करोड़ रुपए का घोटाला करने का आरोप लगाते हुए आजम खान का नाम लिया था. साथ ही उन्होंने योगी सरकार से सीबीआई जांच की मांग की थी.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?