Tuesday, January 25, 2022

CAB बिल के लोकसभा में पारित होने पर बोले आजम खान- मुस्लिमों को देश भक्ति की सजा दी गई

- Advertisement -

रामपुर. सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल (Citizenship Amendment Bill) लोकसभा में पास होने पर रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान ने कहा कि यह ताकत के बल पर लिया गया फैसला है। आजम खान ने सत्ता पक्ष को नसीहत देते हुए कहा कि अगर अपोजिशन सही बात करता है तो उसे न सिर्फ सुननी चाहिए बल्कि मान भी लेनी चाहिए।

सपा नेता ने कहा, ‘नागरिकता संशोधन बिल पर लोकसभा में लिया गया फैसला ताकत के बल पर लिया गया फैसला है। यह मुस्लिमों को देशभक्ति की सजा दी गई। जिस सवाल पर आज देश बंटा हुआ है, उसी सवाल पर 1947 में देश बंटा हुआ था। मुसलमानों के अलावा किसी के पास पाकिस्तान जाने का रास्ता नहीं था, लेकिन जो उस वक्त पाकिस्तान नहीं गए उनसे ज्यादा देशभक्त कोई नहीं था। अब अगर उस देश भक्ति की यही सजा है तो उसपर टिप्पणी नहीं की जा सकती है। क्योंकि लोकतंत्र में सिर गिने जाते हैं।’

न्यूज18 से बातचीत में आजम खान ने कहा, “ताकत के बल पर फैसला हुआ है। ताकत भी बड़ी ताकत है। विपक्ष की तादाद कम है। विपक्ष कितनी भी सही बात कहे उसकी सुनवाई नहीं होगी। लेकिन अच्छे लोकतंत्र की मिसाल ये है कि सत्ता पक्ष को न सिर्फ विपक्ष की सही बात को सुननी चाहिए, बल्कि मान लेनी चाहिए। जिस सवाल पर आज देश बंटा हुआ है, उसी सवाल पर तो 1947 में देश का विभाजन हुआ था। लेकिन जो लोग पाकिस्तान नहीं गए थे, उनके पास रास्ता था पाकिस्तान जाने का।

मुसलमानों के अलावा किसी के पास आप्शन नहीं था पाकिस्तान जाने का। लेकिन जो लोग उस वक्त पाकिस्तान नहीं गए शायद उनसे ज्यादा बड़े देश भक्त थे, जिन्हें जाने का आप्शन नहीं था। अगर उस देशभक्ति की यही सजा है तो उस पर कोई टिप्पणी नहीं की जा सकती क्योंकि लोकतंत्र में दिमाग नहीं सिर गिने जाते हैं।

केंद्र सरकार ने सोमवार को लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 (Citizenship Amendment Bill 2019) पेश किया, जो करीब आठ घंटे की बहस के बाद रात 12 बजे पास हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में विधेयक के पारित होने पर प्रसन्नता जतायी है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles