उत्तर प्रदेश में योगी सरकार द्वारा भगवान राम की विशाल मूर्ति स्थापित किए जाने की घोषणा के साथ ही राजनीति का दौर भी शुरू हो चुका है। समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने सरदार बल्लभ भाई पटेल की स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से भी ऊंची भगवान राम की मूर्ति स्थापित करने की मांग की है।

अयोध्या में मूर्ति लगाए जाने की अटकलों पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा, ‘यह ख्याल उस वक्त नहीं आया जब सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा बनाई जा रही थी? कोई क्यों रोकेगा? हम तो स्वागत करेंगे। हम तो चाहेंगे उससे ऊंची रामपुर में बनाएं।’

बता दें कि हाल ही में यूपी बीजेपी के अध्‍यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने संकेत दिए कि सीएम योगी दीपावली तक सरयू तट पर भगवान राम की विशालकाय प्रतिमा बनवाने का ऐलान कर सकते हैं। हालांकि मूर्ति की ऊंचाई 151 मीटर तय की गई है लेकिन इस पर अंतिम फैसला योगी ले सकते हैं कि यह मूर्ति इससे भी बड़ी होगी या नहीं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

151 मीटर ऊंची मूर्ति और स्मारक की अनुमानित लागत आठ सौ करोड़ रुपए है। मूर्ति के निर्माण में आने वाले खर्च के लिए सरकार बैंक से लोन या जनसहयोग के लिए अपील भी कर सकती है। मूर्ति के लिए अंतरराष्ट्रीय आर्किटेक्ट को भी आमंत्रित किया गया है। जिसकी डिजाइन अच्छी होगी, उसी पर मुहर लगाई जाएगी। मूर्ति का निर्माण कांसे से होगा।

Loading...