मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सूर्य नमस्कार और नमाज को समान बताने पर  समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान ने योगी आदित्यनाथ से सवाल किया कि क्या ऐसे में वह अब नमाज पढऩा चाहेंगे ? क्योंकि उनका कहना है कि नमाज सूर्य नमस्कार के समान है.

दरअसल हाल ही में लखनऊ के इंदिरा गाँधी प्रतिष्ठान में प्रथम योग महोत्सव को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूर्य नमस्कार और नमाज को मिलता-जुलता बताया था. उन्होंने कहा था, सूर्य नमस्कार की पूरी प्रक्रिया अगर देखें तो पाएंगे कि मुस्लिम बंधु जो नमाज पढ़ते हैं उससे वो मिलती जुलती है.  दोनों बिल्कुल एक जैसी हैं लेकिन उन्हें जोड़ने का प्रयास नहीं किया गया क्योंकि जो लोग सत्ता में थे उन्हें योग की नहीं, भोग की आदत थी.

इस पर आजम खान ने सवाल उठाया कि  ‘चूंकि आपको सूर्य नमस्कार और नमाज में समानताएं लगती हैं, क्या आप नमाज पढऩा चाहेेंगे?’ उन्होंने आगे कहा, वह यह नहीं समझ पा रहे हैं कि मुस्लिमों द्वारा पढी जाने वाली नमाज किस तरह से सूर्य नमस्कार के समान है. सपा नेता ने कहा, अगर ऐसा हैं तो कोई भी ‘आदित्यनाथ को नमाज पढऩे से नहीं रोकेगा.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बूचडख़ानों पर कार्रवाई पर खान ने कहा, ‘मुस्लिमों को यह सुनिश्चित करने के लिए सब्जियां खाने को मजबूर किया जा रहा है कि अन्य की धार्मिक भावनाएं आहत नहीं हों. शेर घास नहीं खाता लेकिन अगर वह जिंदा रहना चाहता तो उसे ऐसा करना पड़ेगा.’

Loading...