नई दिल्ली: चुनाव आयोग द्वारा लाभ के पद मामले में चुनाव आयोग द्वारा आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित किये जाने के बाद पार्टी नेता आशुतोष भड़क उठे है.

आशुतोष ने ट्वीट कर कहा कि आयोग इतना कभी नहीं गिरा था. उनहोंने कहा, सेशन के दौरान रिपोर्टर के तौर पर चुनाव कवर करने वाला मेरे जैसा शख्स भी आज कह सकता है कि चुनाव आयोग कभी इतना नीचे नहीं गिरा.’

उन्होंने एक और ट्वीट किया और कहा कि ‘चुनाव आयोग को पीएमओ का लेटर बॉक्स नहीं बनना चाहिए, मगर आज की यह वास्तविकता है.’ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को भेजी गई अपनी राय में चुनाव आयोग ने कहा है कि संसदीय सचिव बनकर वे लाभ के पद पर हैं और दिल्ली विधानसभा के विधायक के तौर पर अयोग्य घोषित होने योग्य हैं.

आप को बता दें कि संविधान के अनुसार दिल्ली विधानसभा में केवल एक ही विधायक संसदीय सचिव रह सकता है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 21 विधायकों को संसदीय सचिव नियुक्त किया था. ऐसे में सभी को लाभ के पद पर माना गया.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें