सहारनपुर | AIMIM प्रमुख असादुद्दीन ओवैसी अपने विवादित बयानों की वजह से हमेशा सुर्खियों में बने रहते है. मुस्लिम नेता के तौर पर अपनी पहचान बना चुके ओवैसी फिलहाल उत्तर प्रदेश चुनावो में ताल ठोखते दिख रहे है. उन्होंने उत्तर प्रदेश में अपने उम्मीदवार उतारने का एलान किया. उनकी नजर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के उन विधानसभा सीटो पर ज्यादा है जहाँ मुस्लिम वोटर निर्णायक साबित हो सकते है.

अपनी पार्टी के प्रचार के लिए ओवैसी कुछ दिन पहले कैराना में थे तो कल सहारनपुर में. यहाँ गाँधी पार्क में एक रैली को संबोधित करते हुए ओवैसी ने प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला. उन्होंने कहा की मोदी जी खादी ग्रामोधोग के वार्षिक कैलेंडर पर चरखा चलते दिख रहे है. वो दुनिया में पहले शख्स है जो एक हाथ से चरखा चला रहे है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ओवैसी यही नही रुके उन्होंने मोदी पर बिना बात के श्रेय लेने का आरोप लगाते हुए कहा की यह तो शुक्र है की लालकिला और ताजमहल , बरसो पहले बने थे, नही तो मोदी जी इनको बनाने का श्रेय भी ले लेते. इससे पहले ओवैसी ने प्रदेश की अखिलेश सरकार पर मुसलमानों की अनदेखी करने का आरोप लगाया.
ओवैसी , पश्चिम उत्त्तर प्रदेश में अपनी पार्टी के लिए जनाधार ढूँढने की कोशिश कर रहे है. अपने उम्मीदवार घोषित करने से पहले वो लोगो की नब्ज टटोल रहे है. वो देखना चाहते है की उनकी रैलियों में कितनी भीड़ उनको सुनने आती है. उधर खबर है की कांग्रेस और समाजवादी पार्टी से बात बनती न देख ,रालोद मुखिया चौधरी अजित सिंह ,ओवैसी की पार्टी से हाथ मिला सकते है.

Loading...