Tuesday, January 25, 2022

महाराष्ट्र: साल भर भी नहीं चला दलित-मुस्लिम गठबंधन, अब अकेले लड़ेगी ओवैसी की पार्टी चुनाव

- Advertisement -

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव से पहले आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआइएमआइएम) और वंचित बहुजन आघाडी (वीबीए) के बीच गठबंधन टूट गया है।एआईएमआईएम के औरंगाबाद के सांसद इम्तियाज जलील ने वंचित आघाडी के साथ गठबंधन टूटने की घोषणा की है।

महाराष्ट्र एआईएमआईएम प्रमुख और सांसद इम्तियाज जलील ने द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा कि ‘अंबेडकर हमारी पार्टी को कम आंक रहे हैं इसलिए हमने इस चुनाव में अपने दम पर अकेले लड़ने का फैसला किया है। अब हम वंचित बहुजन आघाडी पार्टी का हिस्सा नहीं हैं।’

दोनों दलों के बीच मतभेद पर जलील ने आगे कहा ‘हम बीते दो माह से सीट शेयरिंग पर बातचीत कर रहे थे। हमने 74 सीटों पर चुनाव लड़ने की बात कही थी और हम इससे कम सीटों पर भी मिलकर चुनाव लड़ने के लिए तैयार थे। लेकिन अंबेडकर हमें 8 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए कह रहे थे। वह इससे ज्यादा सीटों पर हामी नहीं भर रहे थे जो कि हमें स्वीकार्य नहीं था। यही वजह रही कि हमने अकेले चुनाव लड़ने का मन बनाया। हालांकि इस दौरान हमने उन्हें सोचना का मौका भी दिया लेकिन वह अपनी बात पर अड़े रहे।’

उन्होंने आगे कहा ‘अंबेडकर को लगा रहा है कि एआईएमआईएम के पास इतनी बड़ी संख्या में सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए मजबूत आधार नहीं है। उन्हें लगता है कि हम सिर्फ 8 सीटों पर ही अपने उम्मीदवार उतारे लेकिन हमें लगता है कि कम से कम 70 सीटों पर तो चुनाव लड़ना ही चाहिए। वह हमें कम आंक रहे हैं। हम अलग-अलग पृष्ठभूमियों के नेताओं को टिकट देंगे। वे सिर्फ मुस्लिम ही नहीं बल्कि अलग धर्म और जाति से संबंधित होंगे।’

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles