Thursday, June 17, 2021

 

 

 

बाबरी शहादत की बरसी पर बोले ओवैसी – कभी नहीं भूलेंगे नाइंसाफी, नई पीढ़ी को भी बताएंगे

- Advertisement -
- Advertisement -

6 दिसंबर को बाबरी मस्जिद की शहादत की 28वी बरसी पर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि इस मस्जिद के बारे में आने वाली पीढ़ियों को बताए।

उन्होंने कहा कि 400 सालों तक बाबरी अयोध्या में खड़ी थी, इसे आने वाली पीढ़ियों को याद दिलाने और सिखाने की जरूरत है। साथ ही उन्होंने कहा कि इस नाइंसाफी को कभी नहीं भुलाया जा सकता है।

ओवैसी ने ट्वीट किया, याद करें और आने वाली पीढ़ियों को सिखाएं कि चार सौ साल तक बाबरी मस्जिद अयोध्या में खड़ी थी। हमारे पुरखों ने वहां एक साथ नमाज अदा की थी और अपने रोज़े खोले थे। जब उनकी मौत हो जाती थी तो उन्हें इसी इलाके के आस-पास दफनाया जाता था।

उन्होने कहा, ’22-23 दिसंबर 1949 की रात को हमारी बाबरी मस्जिद को अपवित्र किया गया और 42 सालों तक अवैध रूप से कब्जे में रखा गया। आज ही के दिन 1992 में पूरी दुनिया के सामने हमारी मस्जिद को ध्वस्त कर दिया गया। इसके लिए जिम्मेदार लोगों को एक दिन की भी सजा नहीं हुई। इस नाइंसाफी को कभी मत भूलिए।’

AIMIM के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से की गई एक पोस्ट में भी कहा गया है ‘हमारी लड़ाई जमीन की नहीं बल्कि कानूनी अधिकार की थी, हमको भीख में कोई चीज नहीं चाहिए. हमारा जो हक है, हमें दे दो।’ बता दें कि गौरतलब है कि 28 साल पहले 6 दिसंबर 1992 के दिन भगवा कार्यकर्ताओं ने बाबरी मस्जिद को ढहा दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles