बिहार के किशनगंज पहुंचे ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर बड़ा हमला बोला है।

ठाकुरगंज प्रखंड के ऐतिहासिक गांधी मैदान में 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान नीतीश को अपना बयान याद दिलाते हुए कहा कि एआईएमआईएम पार्टी को नीतीश कुमार ने वोट कटवा पार्टी बताया था और आज उनकी पार्टी खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गोद में बैठ गई है।

शरिया कोर्ट को लेकर उठाए जा रहे सवालों पर ओवैसी ने कहा कि 25 साल से देश के कई राज्यों में शरिया कोर्ट मौजूद हैं जहां काजी नियुक्त हैं और वहां लोगों को न्याय मिलता है। अगर दोनों पक्ष में से किसी को शरिया कोर्ट के फैसले पर आपत्ति हो तो उनके लिए देश की अदालतें खुली हुई हैं। उनके शरण में जाकर न्याय प्राप्त किया जा सकता है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ओवैसी ने ऐलान किया कि एआईएमआईएम किशनगंज से लोकसभा चुनाव लड़ेगी और पार्टी के उम्मीदवार अख्तरुल ईमान होंगे। गठबंधन के हिस्सा बनने के सवाल पर ओवैसी ने कहा कि ‘हम उन लोगों से पूछना चाह रहे हैं कि जो असेंबली इलेक्शन के दौरान हम पर वाहियात किस्म के इलजाम लगाए थे कि ये तो वोट काटने आए हैं, ये करने आए हैं, वो करने आएं हैं? वो लोग खुद क्या कर रहे हैं?

उन्होंने कांग्रेस और उसकी सहयोगी पार्टियों को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि आजादी के बाद से इस सीमांचल क्षेत्र की उपेक्षा की गई है। उन्होंने कहा कि यहां के लोगों से वोट लेकर हमेशा ठगा गया है।