Friday, July 30, 2021

 

 

 

दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने की मांग को लेकर केजरीवाल बैठेंगे आमरण अनशन पर

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलवाने के लिए अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करने का ऐलान किया है। शनिवार को दिल्ली विधानसभा में केजरीवाल ने कहा कि मैं 1 मार्च से दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलवाने के लिए अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर रहूंगा।

दिल्ली विधानसभा में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूरी दिल्ली को अब पूर्ण राज्य का दर्जा हासिल करने के लिए एक आंदोलन चलाना होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि 1 मार्च से वह एक आंदोलन की शुरुआत करेंगे। इसमें वह अनिश्चितकाल तक अनशन पर बैठेंगे।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने विधानसभा से निकलने के बाद मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि लोकतंत्र पूरे देश में लागू है लेकिन दिल्ली में नहीं। उन्होंने कहा, ‘जनता वोट देती है और सरकार चुनती है, लेकिन सरकार के पास कोई ताकत नहीं है। इसलिए 1 मार्च से हम एक आंदोलन शुरू कर रहे हैं। मैं दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने के लिए आमरण अनशन पर बैठूंगा।’

दिल्ली के सीएम ने संवाददताओं से बातचीत में कहा कि पूरे देश में लोकतंत्र लागू है लेकिन दिल्ली में ऐसा नहीं है। जनता वोट करती है और सरकार चुनती है, लेकिन सरकार के पास कोई पावर नहीं है। इसलिए हम 1 मार्च से आंदोलन शुरू कर रहे हैं।

दिल्ली को अभी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र यानी केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा प्राप्त है। यह दर्जा दिल्ली को संविधान के अनुच्छेद-239 में है। समवर्ती सूची में केंद्र और राज्य दोनों को कानून बनाने का अधिकार होगा। अगर एक ही विषय पर राज्य और केंद्र दोनों कानून बना लेते हैं, तो केंद्र का कानून ही लागू होगा। दिल्ली में एक प्रशासक (उपराज्यपाल) होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles