Monday, August 2, 2021

 

 

 

अमानतुल्लाह खान नहीं रहे अब वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष, फैसलों पर भी लगाई रोक

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली:दिल्ली सरकार ने दिल्ली वक्फ बोर्ड के चेयरमैन अमानतुल्लाह खान को वक्फ बोर्ड के चेयरमैन के पद से हटा दिया है। राजस्व विभाग ने कहा है कि विधानसभा के फरवरी में भंग होने के बाद से अमानतुल्लाह खानवक्फ बोर्ड (Waqf Board) के अध्यक्ष नहीं हैं।

प्रमुख सचिव (राजस्व) के कार्यालय ने शुक्रवार को एक पत्र में कहा है कि वक्फ अधिनियम, 1995 की धारा 14 (1) के तहत फरवरी में विधानसभा भंग होने के बाद खान वक्फ बोर्ड के सदस्य और अध्यक्ष नहीं रहे। अमानतुल्लाह खान द्वारा 11 फरवरी, 2020 के बाद लिए गए सभी फैसलों को भी सरकार ने निरस्त करने का फैसला किया है।

जानकारी के मुताबिक, अमानतुल्लाह खान विधानसभा चुनाव होने के बाद भी वक्फ बोर्ड के ऑफिस आकर चेयरमैन के तौर पर काम कर रहे थे। लेकिन वह कानूनी तौर पर चयरमैन नहीं थे, क्योंकि दोबारा बोर्ड के अध्य्क्ष का चुनाव नहीं हुआ था। इसके बीच विधानसभा मामलों की समिति और दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत ने उन्हें पद से हटाने का फैसला किया है।

विधायक के तौर पर खान को सात सदस्यीय वक्फ बोर्ड में नामित किया गया था और बाद में उन्हें सितंबर 2018 में सर्वसम्मति से वक्फ बोर्ड का अध्यक्ष चुना गया। दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात से इनकार किया कि खान को उनके पद से हटाया गया है और कहा कि नई सरकार द्वारा नए सिरे से समिति पुनर्गठित की जाएगी।

बता दें कि दिल्ली दं’गों के बाद पीड़ितों के लिए किए गए दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड के काम काफी चर्चाओं में रहे है और अमनातुल्लाह खान लगातार आगे बढ़कर इस मामले को देख रहे थे, ऐसे में अब राहत के काम पर तो इसका बड़ा असर नहीं पड़ेगा ये देखना जरूरी हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles