गुजरात में कांग्रेस के विधायक रहे अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह जाला ने भाजपा का दामन थाम लिया है। गुजरात भाजपा अध्यक्ष, जीतू वघानी की उपस्थिति में दोनों नेताओं ने पार्टी की सदस्यता ली। माना जा रहा है कि बीजेपी में शामिल होने के बाद अल्पेश ठाकोर को गुजरात सरकार में मंत्री पद मिल सकता है।

कांग्रेस ने लोकसभा चुनावों में पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहने की वजह से अल्पेश को अयोग्य ठहराए जाने की मांग की थी। तब से ही यह चर्चा चल रही थी कि अल्पेश जल्द बीजेपी जॉइन कर सकते हैं।

अल्पेश ठाकोर और धवलसिंह जाला ने राज्यसभा उपचुनाव के मतदान के बाद गुजरात विधानसभा से इस्तीफा भी दे दिया था। इससे कुछ महीने पहले अल्पेश ठाकोर ने दावा किया था कि राज्य में कांग्रेस के 15 से ज्यादा विधायक पार्टी छोड़ने वाले हैं। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस से हर कोई नाराज और असंतुष्ट है।

अल्पेश ठाकोर ने कहा था कि यह मेरा फैसला और अंतरात्मा की आवाज थी कि मुझे कांग्रेस में नहीं रहना है। मुझे अपने और गरीबों के लिए सरकार की मदद से काम करना है।

बता दें कि देश के गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी के लोकसभा चुनाव जीतने की वजह से गुजरात की दो राज्यसभा सीटें खाली हुई थीं। बीजेपी प्रत्‍याशी विदेश मंत्री एस. जयशंकर तथा जुगलजी ठाकोर ने जीत दर्ज की। इस चुनाव के दौरान कांग्रेस के बागी विधायकों अल्पेश ठाकोर और झाला ने क्रॉस वोटिंग की थी।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन