akhi

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के साथ गठबंधन को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने रविवार को कहा कि बीजेपी को सत्ता से बाहर करना उनका लक्ष्य है और इसके लिए वह 2019 में बीएसपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी.

मैनपुरी में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि अगर गठबंधन के लिए सीट बंटवारे में त्याग भी करना पड़े तो वह उसके लिए तैयार हैं. अखिलेश यादव ने कहा कि यह लड़ाई लंबी है. बसपा के साथ गठबंधन जारी रहेगा. हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि बीजेपी की हार तय हो. जरूरत पड़ी तो समाजवादी लोग त्याग करने में पीछे नहीं हटेंगे. उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं को बसपा का सहयोग करने के निर्देश भी दिए.

अखिलेश ने दो टूक शब्दों में कहा कि नेताओं को घर में उलझाकर भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव को निकालने की चाल चली है. भाजपाई भूल गए हैं कि सपाई जब मैदान में आएंगे तो भाजपा कहीं नजर नहीं आएग. अखिलेश ने कहा कि यह गठबंधन लोकसभा चुनाव से आगे भी जारी रहेगा. विधानसभा चुनाव में भी गठबंधन रहेगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अखिलेश ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी हालिया उपचुनावों में हर वह सीट हार गई जहां योगी ने पार्टी के लिए चुनाव प्रचार किया। उन्होंने कहा कि हम तो कैराना या नूरपुर गए भी नहीं लेकिन फिर भी चुनाव जीत लिया। यह जीत बीजेपी के खिलाफ कड़ा संदेश है।

बता दें कि मायावती पहले ही सीटों पर बातचीत होने के बाद ही गठबंधन को लेकर तैयार हैं। ऐसी उम्मीद है कि आगामी लोकसभा चुनाव में सपा, बसपा और कांग्रेस मिलकर चुनाव लड़ सकती हैं।

Loading...