Tuesday, September 28, 2021

 

 

 

छत्तीसगढ़ में जमकर बरसे अखिलेश: बीजेपी-कांग्रेस को बताया एक, कहा – आपस में मिलें हुए है दोनों के नेता

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: आम चुनाव 2019 के लिए महागठबंधन का झण्डा थामे हुए समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने गुरुवार को छत्तीसगढ़ में बीजेपी और कांग्रेस पर जमकर बरसे। इस दौरान उन्होने कहा, दोनों पार्टियों के नेता सब एक दूसरे से मिले हुए हैं और गरीबों, किसानों, नौजवानों की किस्मत बनाने में उनकी कोई रुचि नहीं है।

नोटबंदी के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि बीजेपी और कांग्रेस का नजरिया इस मुद्दे पर एक जैसा है। नोटबंदी का सच तो ये है कि काले धन को बैंकों में जमा कराया गया है। जिन लोगों का काला धन बैंक में जमा हुआ वो अपनी रकम लेकर विदेश भाग गए। आप देख सकते हैं कि कितने लोग विदेशों की तरफ रुख कर चुके हैं। नोटबंदी की सबसे बड़ी सच्चाई यही है कि कांग्रेस और बीजेपी में किसी तरह का अंतर नहीं है। जो बीजेपी है वही कांग्रेस है, जो कांग्रेस है वही बीजेपी है।

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के अध्यक्ष हीरा सिंह मरकाम के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा में अखिलेश ने कहा कि छत्तीसगढ़ में एसपी और गोंडवाना गणतंत्र पार्टी की सरकार बनी तो शपथ ग्रहण के एक घंटे के अंदर किसानों का कर्ज माफ होगा।

एसपी प्रमुख ने कहा कि नक्सलियों से उतना खतरा नहीं है, जितना कि शहरी नक्सलियों से है। शहरी नक्सली देश में जातीय व धार्मिक भेदभाव की बातें करते हैं। इनका विकास से कोई वास्ता नहीं है। ये लोग देश को बांटने में लगे हैं। अखिलेश का यह बयान इसलिए भी अहम है कि बीजेपी भी ‘शहरी नक्सली’ का मुद्दा उठाती रहती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles