Akhilesh_Mulayam_0_0_0_0_0_0
नई दिल्ली – आगामी विधानसभा चुनावों की लिस्ट जारी होते ही एक बार फिर घर का घमासान बाहर निकल आया है जहाँ मुखिया मुलायम सिंह ने साबित कर दिया है की किंगमेकर का निर्णय अंतिम होगा वहीँ लिस्ट में अपने करीबियों को टिकट ना मिलने से नाराज़ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक ऐसा कदम उठाया है जिसकी किसी को उम्मीद नही थी.

दोपहर में सपा सुप्रीमो ने अखिलेश यादव के करीबियों का टिकट काट दिया तो रात होते होते अखिलेश ने भी अपने तेवर दिखा दिए। अखिलेश यादव ने सुरभि शुक्ला और उनके पति संदीप शुक्ला को राज्यमंत्री पद से किया बर्खास्त कर दिया है। सुरभि के पति को मुलायम सिंह ने आज ही टिकट दिया था।

मुलायम सिंह ने आज ही 325 प्रत्याशियों की सूची जारी की है, जिसमें अखिलेश के कुछ करीबियों का पत्ता काट दिया गया है। अपने समर्थकों में नाराजगी को देखते हुए अखिलेश यादव ने कहा है कि वे नेता जी से इस बारे में बात करेंगे। अखिलेश ने ऐसे विधायकों को कल सुबह 11 बजे बुलाया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अखिलेश यादव के दफ्तर से एक बयान जारी कर बताया गया है कि मुख्यमंत्री जी नेताजी से रामगोविंद चौधरी, अरविंद सिंह गोप और पवन पांडे की उम्मीदवारी पर पुनर्विचार के लिए नेताजी से आग्रह करेंगे। इससे पहले अखिलेश यादव ने कहा कि जिन लोगों को टिकट नहीं मिला, वो सभी मेहनतकश लोग हैं। इस बारे में मैं नेताजी से बात करूंगा।

Loading...