akhilesh21समाजवादी पार्टी में एक बार फिर से कोई समझोता नहीं हो पाया हैं. इसके साथ ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चुनाव तैयारियों पर ध्यान लगाना शुरू कर दिया है. उन्होंने लखनऊ में आज अपने सरकारी आवास पर विधायकों के साथ बैठक भी की. इस दौरान 221 विधायकों और 60 विधानपरिषद के सदस्यों ने अखिलेश के समर्थन में एफिडेविट पर साइन किया.

बैठक के बाद अखिलेश ने कहा, ‘मैंने नेता जी (मुलायम सिंह यादव) से सिर्फ 3 महीने का समय मांगा। उनसे कहा, उसके बाद आप सब कुछ ले लीजिये. आपने मुख्यमंत्री बनाया है. आप जिसको अध्यक्ष बना दीजिएगा मुझे एतराज नहीं होगा. लेकिन मुजे इस वक्त मुजे सिर्फ 3 महीने दीजिए.’

इसके साथ ही उन्होंने विधायकों से कहा कि जो भी यहां उपस्थित हैं, उनमें से किसी का टिकट नहीं कटेगा. हम अपने दम पर चुनाव लड़ेंगे. वहीँ चुनाव चिन्ह को लेकर उन्होंने कहा, नेताजी हमारे साथ हैं उनका आर्शीवाद मेरे साथ है. चुनाव चिन्ह की चिंता छोड़ दीजिए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सीएम ने विधायकों को बताया कि सुबह आजम खान उनसे मिलने आए थे. इसके बाद वह खुद नेताजी से मिलने जाने वाले थे लेकिन पता चला कि नेताजी दिल्ली रवाना हो गए हैं, इसलिए मुलाकात नहीं हो सकी.

Loading...