लखनऊ | ताजमहल पर हो रहे विवाद के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज ताज दर्शन के लिए आगरा पहुंचे. यहाँ उन्होंने स्वच्छता अभियान को आगे बढाते हुए ताजमहल के पश्चिमी द्वार पर झाड़ू लगाई. इसी बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेंस करके योगी के ताज दौरे पर निशाना साधा. अखिलेश ने इस दौरे को अंतराष्ट्रीय स्तर पर हो रही बदनामी से बचने के दबाव का परिणाम करार दिया.

अखिलेश यही नही रुके उन्होंने आगे कहा की बीजेपी के लोगो ने ताजमहल को शिव मंदिर तक करार दे दिया. कुछ नेताओं ने इसे हमारी संस्कृति पर धब्बा कहा. लेकिन समय बदलते देर नही लगती, इसलिए अन्तराष्ट्रीय स्तर पर बदनामी से बचने के लिए केंद्र सरकार के दबाव की वजह से योगी आज ताज दर्शन करने के लिए पहुंचे गए. अखिलेश यादव ने योगी के ताज द्वार पर झाड़ू लगाने पर भी तंज कसा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अखिलेश ने कहा की जो लोग ताजमहल को देश की धरोहर या संस्कृति का हिस्सा नही मानते, भगवन राम ने क्या किया की आज वो ही लोग ताजमहल के पश्चिमी द्वार पर झाड़ू लगा रहे है. अखिलेश ने ताज परिसर में भगवा पहने कुछ लोगो द्वारा पूजा करने पर भी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा की ये लोग देश से पर्यटन को खत्म करना चाहते है. मैं चुनौती देता हूँ की अगर बीजेपी में हिम्मत है तो वो ताजमहल को विश्व धरोहर की सूची से हटवाकर दिखाए.

गुजरात चुनाव पर पार्टी की रणनीति का खुलासा करते हुए अखिलेश ने कहा की इस बार के चुनाव में गुजरात की जनता ने बीजेपी को ख़ारिज करने का फैसला कर लिया है. हमारा वहां कांग्रेस से गठबंधन नही हुआ है. हमने कांग्रेस से पांच सीट मांगे है. अगर हमारा समझौता नही भी होता तब भी हम वहां सभी सीटो पर कांग्रेस का समर्थन करेंगे. नगर निकाय चुनावो पर उन्होंने कहा की प्रदेश में काफी कूड़ा फैला हुआ है. हम लोगो से अपील करेंगे की कूड़े की सफाई के लिए सपा को वोट दे.