भाजपा को समर्थन पर अजित जोगी की सफाई – मुझे सूली पर चढ़ा दो लेकिन समर्थन ना दूंगा, ना लूंगा

12:00 pm Published by:-Hindi News
ajit jogi 1 620x400

छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का बहुमत न मिलने की स्थिति में बीजेपी के साथ गठबंधन सरकार बनाने को लेकर दिया गया बयान चर्चा का विषय बना हुआ है। बसपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ने वाले जोगी ने बयान पर विवाद बढ़ने के बाद कहा, “मैं सपने में भी नहीं सोच सकता कि भाजपा के साथ गठबंधन करूं, मैं उनको किसी शर्त पर समर्थन नहीं दूंगा और न ही उनसे समर्थन लूंगा।”

अजीत जोगी ने कड़ा बयान देते हुए कहा कि, वो सूली पर चढ़ना पसंद करेंगे, लेकिन भाजपा के साथ कभी नहीं जाएंगे।छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी ने मीडिया के सामने आठ धार्मिक ग्रंथों की कसम खाते हुए कहा कि, वो किसी को समर्थन नहीं देंगे और न ही समर्थन लेंगे।

कहा जा रहा है कि, बसपा मुखिया मायावती के सख्त तेवरों के बाद अजीत जोगी को भी अपने बयान को लेकर नरम रूख अख्तियार करना पड़ा। दरअसल, बसपा प्रमुख मायावती ने साफ कर दिया है कि छत्तीसगढ़़ विधानसभा चुनाव में बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में वह न तो बीजेपी के साथ गठबंधन करेंगी और ना हीं कांग्रेस के साथ।

उन्होंने NDTV से बात करते हुए कहा कि वह न BJP के साथ जाएंगी, न कांग्रेस के साथ, एक ‘सांपनाथ है तो एक नागनाथ।’ मायावती ने कहा कि हमें पूरा यकीन है कि हमें पूरा बहुमत मिलेगा। मैं इसके लिए पूरी तरह से आश्वस्त हूं।

उन्होंने कहा कि अगर हमें जनादेश नहीं मिला तो हम विपक्ष में बैठना पसंद करेंगे।  हम न बीजेपी के साथ जाएंगे और न ही कांग्रेस के साथ। ये दोनों पार्टी गरीब लोगों और दबे कुचले लोगों की हितैशी पार्टी नहीं है। उन्होंने कहा कि हम विपक्ष में बैठना पसंद करेंगे, लेकिन मुझे पूरा भरोसा है कि जिस तरह से हमारी गठबंधन पार्टियां काम कर रही हैं, हमें पूरा बहुमत मिलेगा।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें