45000996

लखनऊ | मुलायम परिवार में चल रही कलह से समाजवादी पार्टी के कई वरिष्ठ नेता परेशान है. दरअसल इन नेताओ को यह नही सूझ रहा की वो किस खेमे में जाए. वो मुलायम के भी इतने ही करीब है जितने अखिलेश के. ऐसे में उनके सामने बड़ी संसय वाली स्थिति बनी हुई है. इसलिए ये चाहते है की बाप और बेटे की बीच सुलह हो जाए.

पार्टी के दो धडो में टूटने से अगर कोई सबसे ज्यादा परेशान है तो वो है आजम खान. आजम खान किसी भी कीमत पर दोनों में सुलह कराना चाहते है. उन्होंने अपने एक बयान में कहा था की सूबे का मुस्लिम इस कलह से परेशान है. उसको कुछ समझ नही आ रहा की वो किधर जाए. समाजवादी पार्टी में मचे घमासान का सबसे ज्यादा बीजेपी को होगा इसलिए सभी मतभेद खत्म होने चाहिए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसी उलझन को दूर करने के लिए आजम खान लगातार दोनों खेमो से बात कर सब सामान्य करना चाहते है. अपनी इसी कोशिश में वो एक बार सफल भी हो चुके है लेकिन इस बार लगता है की बाप बेटे की बीच खाई ज्यादा चौड़ी हो चुकी है. यही वजह है की कल तीन घंटे तक मुलायम और अखिलेश की बीच बातचीत होने के बावजूद कोई नतीजा नही निकल पाया.

अब आजम खान एक और कोशिश कर रहे है. खबर है की आजम खान किसी सुलह के फोर्मुले के साथ मुलायम से मिलने पहुंचे है. उनके साथ शिवपाल सिंह, नारद राय और ओमप्रकाश भी मौजूद है. आजम कह चुके है की वो सुलह के लिए हाथ पैर तक जोड़ने के लिए तैयार है. देखते है इस मीटिंग का क्या नतीजा निकलता है. वैसे कल आजम खान ने मुलायम से मिलने की कोशिश की थी लेकिन वो उनसे बिना मिले लखनऊ के लिए रवाना हो गए थे.

Loading...