भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) के पूर्व अधिकारी और सांसद सैयद शहाबुद्दीन के निधन पर ऑल इंडिया युनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) के राष्ट्रीय अध्यक्ष, और सांसद मौलाना बदरुद्दीन अजमल ने गहरा शौक व्यक्त करते हुए देश और मिल्लत के लिए एक बड़ा नुक़सान करार दिया.

सांसद सैयद शहाबुद्दीन का लंबी बीमारी के बाद नोएडा के एक अस्पताल में शनिवार सुबह निधन हो गया था. शहाबुद्दीन के करीबी सहयोगी नाविद हामिद के अनुसार, ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिसे मुशावरत के पूर्व अध्यक्ष शहाबुद्दीन का शनिवार सुबह 6.22 बजे निधन हुआ.

मौलाना बदरुद्दीन अजमल को जैसे ही शहाबुद्दीन के निधन की खबर मिली वे अपनी सारी व्यस्तताओं को छोड़कर उनके जनाजें में शरीक होने के लिए पहुंचे. उन्होंने कहा कि सैयद शहाबुद्दीन जैसे महान व्यक्ति और मिल्लत की परवाह करने वाले नेता बहुत ही मुश्किल से मिलते हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने बताया कि सैयद शहाबुद्दीन ने इंडियन फोरेन सर्विस (आईएफएस) अधिकारी के रूप में कई देशों के भारतीय दूतावासों में अपनी सेवा दी. इसी के साथ उन्होंने मुस्लिम मजलिसे मुशावरत सहित अन्य संगठनों के जरिए मिल्लत की खिदमत की.

Loading...