बिहार में नई विधानसभा (17वीं) के नवनिर्वाचित विधायकों ने आज सदन की सदस्यता ली। इस दौरान AIMIM विधायक अख्तरुल इमाम ने हिंदुस्तान शब्द पर आपत्ति जताते हुए भारत शब्द के इस्तेमाल की मांग की।

दरअसल, अख्तरुल ईमान ने उर्दू में शपथ लेने की इच्छा जाहिर की लेकिन चूंकि उर्दू में भारत की जगह हिंदुस्तान शब्द के इस्तेमाल पर उन्होंने आपत्ति जताते हुए प्रोटेम स्पीकर से भारत शब्द का इस्तेमाल करने की गुजारिश की।

विधायक अख्तरुल ईमान ने कहा कि हिंदी भाषा में भारत के संविधान की शपथ ली जाती है। मैथिली में भी हिन्दुस्तान की जगह भारत शब्द का ही इस्तेमाल किया जाता है लेकिन उर्दू में शपथ लेने के लिए जो पत्र मुहैया कराया गया है उसमें भारत की जगह हिंदुस्तान शब्द का इस्तेमाल किया गया है।

विधायक ने कहा कि वह भारत के संविधान की शपथ लेना चाहते हैं ना कि हिंदुस्तान की संविधान की। इस बाबत जीतन राम मांझी ने आपत्ति जताते हुए कहा कि यह कोई पहली बार नहीं हो रहा है। ये परंपरा रही है हिंदुस्तान शब्द का इस्तेमाल बहुत पहले से ही होता आ रहा है, लेकिन इसका एआईएमआईएम के विधायक महोदय पर कोई असर नहीं पड़ा और वह अपने बात पर अडे रहे।

बता दें क सदन में सबसे पहले डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद ने शपथ ली। उनके बाद डिप्टी सीएम रेणु देवी, मंत्री विजय कुमार चौधरी, विजेंद्र प्रसाद यादव ने शपथ ली। इसी तरह शीला कुमारी, अमरेंद्र प्रसाद और रामप्रीत पासवान ने मैथिली भाषा में शपथ ली। मंत्री राम सूरत रॉय, विधायक रिंकू सिंह, चेतन आनंद ने अंग्रेजी भाषा मं शपथ ली। चेतन पूर्व सांसद आंनद मोहन के बेटे हैं।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano