राफेल डील को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार को घेरते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण से सीधे तीन सवाल पूछे है.

शनिवार को ट्वीट कर राहुल ने रक्षामंत्री से कहा कि यह कितना शर्मनाक है कि आपके बॉस आपको खामोश कर रहे हैं. राहुल ने पहले सवाल में रक्षा मंत्री से पूछा कि कृपया हमें हर राफेल विमान की फाइनल कीमत बताएं. दूसरे सवाल में कांग्रेस उपाध्यक्ष ने पूछा कि क्या पीएम ने पैरिस में राफेल विमान खरीदने की घोषणा से पहले कैबिनेट कमिटी ऑफ सिक्यॉरिटी (CCS) की अनुमति ली थी.

आखिरी सवाल में उन्होंने पूछा, क्यों पीएम ने अनुभवी HAL को बाइपास करते हुए यह डील AA रेटेड बिजनसमैन को दी, जिनके पास कोई डिफेंस एक्सपीरियंस नहीं है.

ध्यान रहे कांग्रेस पहले इस सौदे को लेकर प्रधान मंत्री पर गंभीर आरोप लगा चुकी है. राहुल ने हाल ही में कहा था कि पीएम मोदी ने अपने व्यवसायी दोस्त को लाभ पहुंचाने के लिए पूरे सौदे में बदलाव किया. हालांकि केंद्र सरकार ने कांग्रेस और राहुल गांधी के इन आरोपों को खारिज कर दिया.

कांग्रेस का आरोप है कि  यूपीए ने वर्ष 2012 में फ्रांस से मात्र 54000 करोड़ रूपये की लागत से 126 राफेल विमान खरीदने का सौदा किया था. साथ ही भारतीय एयरोस्पेस कंपनी हिन्दुस्तान एरोनोटिक्स लिमिटेड को प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के लिए भी समझौता हुआ था.

लेकिन अब मोदी सरकार ने बिना प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के प्रावधान के ही केवल 36 विमान 60 हजार करोड रूपये की भारी भरकम राशि में खरीदने को मंजूरी दी. इससे सरकारी खजाने को भारी नुकसान पहुंचा.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?