कायमगंज: लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अभी कई चरणों के मतदान बाकि है। इसी बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने लोकसभा चुनाव के बाद अपनी पार्टी के ”सपा-बसपा-रालोद” के साथ गठजोड़ होने को अपरिहार्य बताते हुए कहा है कि चुनाव नतीजे आने के बाद उत्तर प्रदेश के इस ‘गठबंधन’ के पास कोई और विकल्प नहीं होगा।

खुर्शीद ने भाषा को दिए एक इंटरव्यू में कहा, ‘कांग्रेस गठबंधन दलों के साथ मिलकर बीजेपी का मुकाबला करने की इच्छुक थी। यदि ऐसा हुआ होता तो बीजेपी का खराब प्रदर्शन तय रहता। लेकिन यदि बीजेपी हमारे वोट बंटने के कारण फायदा उठाती है तो मुझे लगता है कि लोग बहुत ही सूझबूझ के साथ वोट डालेंगे और लोग इस बारे में सही जोड़-घटाव कर लेंगे कि बीजेपी से निजात पाने के लिए उन्हें क्या करने की जरूरत है।

यह पूछे जाने पर कि क्या चुनाव के बाद कांग्रेस और सपा-बसपा-रालोद साथ आ सकते हैं, पूर्व केंद्रीय मंत्री ने एक जवाबी सवाल करते हुए पूछा, ‘क्या कोई वजह है कि वे एकसाथ नहीं आएंगे? यदि कांग्रेस और उप्र का यह गठबंधन साथ नहीं आया तो इन लोगों (गठबंधन) के लिए क्या कहा जा सकता है? तब वे लोग बाहर रह जाएंगे।’ उन्होंने कहा कि हम इस बात को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त हैं कि वे लोग गठजोड़ के पक्ष में होंगे। मुझे लगता है कि यही उनका भी मकसद है।

कांग्रेस नेता कहा कि यदि वे लोग इस पर अभी बात नहीं करना चाहते हैं तो यह समझा जा सकता है क्योंकि वे चुनाव लड़ रहे हैं। लेकिन मुझे लगता है कि 23 मई आने पर उनके (गठबंधन) लिए यह कहने के सिवा कोई और विकल्प नहीं होगा कि हम सब को साथ आना होगा।

खुर्शीद (66)फरूर्खाबाद लोकसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं जिसके तहत कायमगंज विधानसभा क्षेत्र आता है। फरूर्खाबाद में भाजपा के मौजूदा सांसद मुकेश राजपूत और बसपा के उम्मीदवार मनोज अग्रवाल के साथ उनका त्रिकोणीय मुकाबला है।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें