ताजमहल विवाद पर बीजेपी की और से डैमेज कंट्रोल को समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने लीपापोती करार देते हुए कहा कि बीजेपी ने बाबरी मस्जिद की तरह ताजमहल को भी गिराने की तैयारी कर ली है.

उन्होंने कहा कि बाबरी मस्जिद की तरह ताजमहल को भी डायनामाइट से उड़ा दिया जाएगा. फिलहाल ये लीपापोती इसलिए हो रही, क्योंकि पूरी दुनिया का दबाव है. ध्यान रहे बीजेपी विधायक संगीत सोम ने ताजमहल को भारतीय संस्कृति पर काला धब्बा करार दिया था.

आजम ने कहा कि ‘पूरे देश में जिस तरह का माहौल बाबरी मस्जिद टूटने और ढहाने से पहले बना था. यह माहौल एक दिन में नहीं बना था, यह माहौल कई वर्षों तक चला. इंसाफ पसंद लोगों को याद होगा कि सुप्रीम कोर्ट का स्टे था, हाईकोर्ट का स्टे था, उस वक्त के यूपी के मुख्यमंत्री का कोर्ट में हलफनामा था, लेकिन इसके बाद भी 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद को डायनामाइट से उड़ा दिया गया.

उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि आज जो भी लीपापोती हो रही है, वह इसलिए हो रही है क्योंकि पूरी दुनिया का दबाव है. यह एक ऐतिहासिक स्मारक है और पूरी दुनिया का सातवां अजूबा है. सिर्फ दुनिया के दबाव की वजह से ताजमहल बचा हुआ है.

सपा नेता ने कहा, पीएनओ की किताब में जो कुछ भी लिखा गया है, उन सब पर फासिस्ट ताकतों ने अमल किया. आरएसएस ने उस पर अमल किया. उन्होंने अपनी किताब में लिखा है कि यहां शिवजी का मंदिर था. अगर मंदिर के नाम पर बाबरी मस्जिद को उड़ा दिया गया तो कोई भी इबादतगाह या इमारत नहीं बच सकती.’

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?