jignesh kdgh 621x414@livemint

jignesh kdgh 621x414@livemint

नवसारी | अगले महीने होने वाले गुजरात विधानसभा चुनावो से पहले देश की दो सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी और कांग्रेस हर दांव चल देना चाहती है. जहाँ कांग्रेस को 22 साल का सत्ता का सुखा खत्म करना है वही बीजेपी की इज्जत इसलिए दांव पर लगी हुई है क्योकि प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह का यह गृह राज्य है. अगर वो घर में ही हार गए तो लाख चुनाव जीते लेकिन साख पर प्रश्न चिन्ह जरुर लग जाएगा.

हालाँकि इस बार के चुनाव बीजेपी के लिए आसान नही होने जा रहे है. पाटीदार आरक्षण आन्दोलन के अगुवा हार्दिक पटेल, दलित नेता जिग्नेश मेवणी और पिछडो के नेता अल्पेश ठाकोर की तिकड़ी ने बीजेपी के माथे पर बल ला दिए है. इन तीनो नेताओ के पीछे गुजरात के काफी युवा जुड़े है. इसलिए माना जा रहा है की यह तिकड़ी बीजेपी का खेल बिगाड़ सकती है. इसमें से अल्पेश ठाकोर कांग्रेस में जाकर बीजेपी को झटका दे चुके है.

हालाँकि हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवणी ने अभी कांग्रेस का समर्थन करने या शामिल होने की कोई अधिकारिक घोषणा नही की है लेकिन वो राज्य की जनता से बीजेपी को हराने की अपील कर कांग्रेस का साथ जरुर दे रहे है. लेकिन फिर भी कांग्रेस चाहती है की दोनों नेता अधिकारिक तौर पर उनके समर्थन की घोषणा करे. इसी सिलसिले में जिग्नेश मेवाणी ने आज नवसारी में राहुल गाँधी से मुलाकात की.

राहुल से मुलाकात के बाद प्र्फल्लुत दिखे जिग्नेश ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा की हम बीजेपी का अहंकार तोड़ेंगे, यह पार्टी जनविरोधी काम करती हैं. राहुल से मुलाकात पर उन्होंने कहा की वो हमारी 90 फीसदी मांगो से सहमत है. राहुल जी से हमारी 17 मांगों पर चर्चा हुई, उन्होंने हमारी मांगों को मेनिफेस्टो में शामिल करने का भरोसा दिया है. जिग्नेश ने आगे कहा कि बीजेपी हमारी नहीं सुनती है और राहुल की सोच बीजेपी से अलग है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?