Wednesday, January 19, 2022

आख़िर कब तक केक और शाल की राजनीति चलेगी ? पहले पठानकोट और अब उरी में आतंकी हमला

- Advertisement -

जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना के ब्रिगेड मुख्यालय पर हुए आंतकी हमले में 17 जवानों की शहादत के बाद देश भड़क उठा हैं. साथ ही केंद्र की विदेश निति पर भी सवालिया निशान लग रहा हैं. हालांकि प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने देश को भरोसा दिलाया है कि हमला करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा.

मोदी ने ट्वीट कर कहा, “उरी में हुए कायराना आतंकी हमले की हम निंदा करते हैं. मैं देश को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि जिन्होंने भी ये हमला किया है उन्हें सजा दिए बिना हम नहीं छोड़ेंगे.” पीएम मोदी ने ट्वीट किया, “हमले पर मैंने रक्षा मंत्री और गृह मंत्री से बात की है. रक्षा मंत्री हालात का जायजा लेने के लिए जम्मू-कश्मीर जा रहे हैं.”

आम आदमी पार्टी नेता कुमार विश्वास ने मोदी पर हमला करते हुए ट्वीट कर कहा, ‘बस भाषण में ज़ोर दिखाना स्वाभिमान नहीं होता, केक सने हाथों से शत्रु का संघान नहीं होता.’ एक और ट्वीट में विश्वास ने कहा, ‘एक USA जिसने हमले को युद्ध माना एक हम हैं जो युद्ध को हमला मान लेते है.देश साथ है पाक को भारतीय सेना के जांबाज तेवर देखने दीजिए सरकार.’

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ‘संकट की घडी है. अभी का बेहतरीन समाधान सेना के पास है. लेकिन डिप्लोमेसी की खतरनाक असफलता की ज़िम्मेदारी किसी को लेनी चाहिए.’

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता संजय सिंह ने हमले के बाद पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘’आख़िर कब तक केक और शाल की राजनीति चलेगी ? पहले पठानकोट का हमला और अब उरी में आतंकी हमला. क्या मोदी जी कोई सबक लेंगे? या ऐसे ही जवान शहीद होते रहेंगे? संजय सिंह ने दूसरे ट्वीट में कहा, ‘पीड़ा से भर गया हूं, देश ने 17 वीर सपूत खो दिये हैं कई घायल हैं, मोदी जी कम से कम इस बार पाकिस्तान को उसकी भाषा में ज़वाब दीजिये.’

आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने  कहा, ‘’नरेंद्र मोदी की लापरवाही से हमारे जवान मारे जा रहे हैं और जम्मू-कश्मीर हमारे हाथ से निकलता जा रहा है. उन्होंने कहा कि अब पूरी कड़ाई के साथ आतंकियों से निपटना होगा और नरेंद्र मोदी को देश को जवाब देना होगा.’’

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles