Wednesday, September 22, 2021

 

 

 

राम मंदिर निर्माण पर ओवैसी ने उड़ाई स्वामी के दावों की हंसी

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्‍ली : एक न्‍यूज चैनल के कार्यक्रम में भाजपा नेता सुब्रहमण्यम स्वामी ने दावा करते हुवे कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का काम साल के खत्म होने से पहले शुरू हो जाएगा और जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को भी 2017 के अंत तक रद्द कर दिया जाएगा। हम और अन्य दावेदार जुलाई से उच्चतम न्यायालय द्वारा मामले की रोजाना सुनवाई किए जाने के पक्ष में हैं। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा होता है तो अदालत का फैसला कुछ महीनों के अंदर आ जाएगा जिससे आगे चलकर राम मंदिर का काम शुरू करना संभव हो जाएगा।

कार्यक्रम में मौजूद लोकसभा सदस्य और मजलिस ए इत्तेहादुल मुसलिमीन के नेता असददुद्दीन ओवैसी पहले तो हंस पड़े और फिर स्वामी को जवाब देते हुए कहा, यह संभव ही नहीं है क्योंकि अदालती दस्तावेज के अनुवाद में ही छह महीना लग जाएगा। उन्होंने कहा कि राम मंदिर घोषणापत्र का हिस्सा है। अदालत फैसला करेगी।

ओवैसी ने अनुच्छेद 370 पर कहा कि “मैने संविधान विशेषज्ञों से सुना है कि अगर आप कश्मीर को भारत के साथ बनाए रखना चाहते हैं तो धारा 370 जरूरी है। कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है। उन्होंने कहा, “हमें कश्मीरियों से प्रेम करना चाहिए न कि सिर्फ कश्मीरी पंडितों से। काफी सारे कश्मीरी बच्चे अब भी लापता हैं। अगर एक आतंकवादी मारा जाता है तो उसके अंतिम संस्कार में 50,000 लोग जमा होते हैं। आप बताइए मुफ्ती मोहम्मद सईद के अंतिम संस्कार के वक्त कितने लोग मौजूद थे। भाजपा सत्ता में है आप राज्य में किस तरह की सरकार चला रहे हैं।”

ओवैसी ने कहा कि घाटी में कश्मीरी पंडितों की वापसी के लिए भाजपा सरकार ने बीते दो सालों में क्या किया है? ओवैसी ने कहा कि भाजपा पीडीपी के साथ जम्मू कश्मीर की सत्ता को साझा कर रही है और उन्हें इस विषय पर विधानसभा में एक प्रस्ताव लाना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो साल से सत्ता में हैं आप मुझे आंकड़े बताइए कि कितने कश्मीरी पंडितों को अब तक वहां भेजा जा चुका है। उन्होंने कहा, “आप कश्मीर में भी सत्ता को साझा कर रहे हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles