बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने काला धन के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद मोदी और उनकी सरकार पर तीखा हमला बोला है। स्विस बैंक में भारतीयों के धन बढ़ने को लेकर मायावती ने पीएम मोदी को घेरते हुए कहा, ये बीजेपी के चहेते भारतीय पूंजीपतियों के धन में वृद्धि हुई है।

मायावती ने आरोप लगाते हुए कहा, ‘बिजनसमैन भारतीय बैंकों की मदद से अपने बिजनस को बढ़ाते हैं और फिर धोखाधड़ी कर बाहर भाग जाते हैं। सभी पैसों को विदेशों में डिपॉजिट करते हैं। देश के लोग आश्चर्य कर रहे हैं कि नरेंद्र मोदी सरकार ऐसे भगोड़ों को रोकने में इतनी लाचार क्यों साबित हो रही है।’

उन्होंने कहा, ‘देश के लोग जानना चाहते हैं कि यह सरकार, विशेष तौर पर प्रधानमंत्री कालेधन पर खामोश क्यों हैं। क्या ऐसा इसलिए है कि विदेशों में कालाधन जमा करने वाले अधिकतर लोग बीजेपी के करीबी हैं?’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मायावती ने आगे कहा कि इन लोगों की वजह से ही आज बीजेपी इतने कम समय में देश की सबसे धनवान पार्टी बन गई है। उन्होंने कहा, “लोग पीएम मोदी को उनके द्वारा विदेशों से काला धान लाने के वादे की याद दिला रहे हैं। यही वजह है कि बीजेपी विकास के मुद्दे को छोड़कर नफरत, सांप्रदायिक, बेईमानी और विभाजनकारी राजनीति के अपने मूल एजेंडे पर वापस आ गई है, उसने जम्मू-कश्मीर में पीडीपी से अपना समर्थन भी वापस ले लिया।”

मायावती ने पूछा कि भारतीय रूपए की कीमत में लगातार गिरावट और अमेरिका में भारतीय पासपोर्ट की अहमियत क्यों कम होती जा रही है। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि सवा सौ करोड़ों के इस देश में दिखावे के लिए गैस सिलेंडर देकर उसके प्रचार में जमीन आसमान एक कर देना संकीर्ण चुनावी राजनीति है। जबकि इससे ज्यादा गैस कनेक्शन हर साल देने की सामान्य प्रक्रिया रही है।

Loading...