पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी बीजेपी को बड़ा झटका देने जा रही है। दावा किया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के 21 नेता टीएमसी में शामिल हो सकते हैं। जिनमे 4 सांसद और एक विधायक भी शामिल है।

मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया कि एक बीजेपी सांसद, जो दो बार सांसद रह चुके हैं और पश्चिम बंगाल से बताए जा रहे हैं, वह भी पिछले तीन महीनों से दिल्ली में टीएमसी नेताओं से संपर्क बनाए हुए हैं और टीएमसी में शामिल होने की इच्छा जता चुके हैं।

रिपोर्ट में ये भी कहा गया कि बीजेपी नेता मुकुल रॉय और पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष के बीच बीते कुछ समय से तनातनी चल रही है। जिसके पीछे का कारण यह बताया जाता है कि इसी साल दिलीप घोष को पार्टी ने दोबारा अध्यक्ष बनाया है। जिससे टीएमसी छोड़ बीजेपी में शामिल हुए मुकुल रॉय और उनके समर्थक नाराज हैं।

दूसरी और भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इन खबरों को भ्रामक और शरारतपूर्ण करार देते हुए खारिज कर दिया है। कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर सोमवार को कहा, ‘कुछ न्यूज चैनल बीजेपी सांसदों के टीएमसी में जाने की शरारतपूर्ण खबर चला रहे हैं। हम इस तरह की किसी भी खबर की निंदा करते हैं।’ उन्होंने आगे कहा कि सभी सांसद बीजेपी के साथ हैं और मोदीजी के नेतृत्व में काम कर रहे हैं।

पश्चिम बंगाल के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने भी अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए बीजेपी नेताओं के टीएमसी में शामिल होने की खबरों को महज अफवाह बताया है। उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव होने वाले है।

Loading...
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano
विज्ञापन