akhi

akhi

लखनऊ. शुक्रवार को यूपी सरकार ने उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा बजट पेश किया. इस दौरान प्रदेश सरकार ने श्मशानों के लिए 100 करोड़ का बजट रखा. जिस पर विपक्ष ने सवाल खड़े कर दिए है.

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सरकार की घोषणाओं पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि ‘यूपी सरकार का ये कैसा विडम्बनाकारी बजट आया है. बेरोजगारी से मरते युवाओं के जीवन के लिए स्वरोजगार के नाम पर केवल कुछ करोड़ और श्मशान के लिए 100 करोड़? आखिर सरकार कहना क्या चाहती है?’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एक अन्य ट्वीट में अखिलेश ने लिखा, ‘नाउम्मीदगी से भरा है यूपी का नया बजट. न बेहाल किसानों के लिए कोई ठोस कदम, न बेरोजगार युवाओं के लिए कोई कारगर योजना. उद्योग-व्यापार के लोगों के हाथ भी बस निराशा हाथ लगी है. शिक्षा व स्वास्थ्य जैसे जरू विषय भी उपेक्षित हुए हैं. कुल मिलाकर केंद्रीय बजट की तरह निराशाजनक है ये बजट.’

वहीँ कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने कहा कि सरकार के बजट से किसान और नौजवान निराश हैं,. आलू और गन्ना किसानों के लिये भी बजट में कोई विशेष पैकेज नहीं है. हर साल 14 लाख लोगों को रोजगार देने की बात भी बजट में नहीं दिख रही है.

Loading...