हैदराबाद से सांसद और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुसलमीन के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने अब आक्रामक रुख अपना लिया है. उन्होंने कांग्रेस और बीजेपी को चुनौती देते हुए कहा कि दोनों ही पार्टी पूरी ताकत लगा ले लेकिन हैदराबाद से वे कभी कामयाब नहीं हो पाएंगी.

ओवैसी ने प्रधानमंत्री को समय से पहले लोकसभा चुनाव कराने की चुनौती देते हुए कहा कि ‘मैं दोनों पार्टियों को चैलेंज देता हूं कि हैदराबाद लोकसभा सीट पर किसी जोकर को नहीं, बल्कि अपने सबसे मजूबत उम्मीदवार को उतारना. प्रधानमंत्री मोदी चाहे तो शहर में 10 बैठकें कर लें. इसके बावजूद हिंदू, मुस्लिम, दलित और ईसाई हैदराबाद से एआईएमआईएम पार्टी को 2 लाख से भी ज्यादा वोटों से जिताएंगे.’

पीएम मोदी को सीधे निशाने पर लेते हुए ओवैसी ने कहा, ‘मोदी सरकार ने सिवाए निराशा के किसी को भी कुछ नहीं दिया है.’ उन्होंने कहा, ‘अब लोग इंतजार में हैं कि कब चुनाव हों और उनकी पार्टी को सबक सिखाया जाए.’ उन्होंने पीएनबी के घोटाले का भी मुद्दा उठाया. लोकसभा सांसद ने कहा, ‘पीएम मोदी के उस वादे का क्या हुआ, जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘ना खाऊंगा और ना खाने दूंगा’?

साथ ही उन्होंने कांग्रेस को भी नहीं बख्शा. लोकसभा सांसद ने कहा कि जनेऊधारी’ कांग्रेस के मुस्लिम सदस्य ऐसे वक्त चुप क्यों हैं, जब संसद में शरिया कानून और पैगम्बर मुहम्मद साहब की शिक्षाओं पर हमला किया जा रहा है. ओवैसी ने कहा कि जब बाबरी मस्जिद ढहाई गई, कांग्रेस और उसके बड़े नेता तब भी चुप थे.

इस दौरान उन्होंने देश के हिन्दू समुदाय को होली की मुबारकबाद भी दी. उन्होंने कहा कि ‘भारत की खूबसूरती उसमें है, जब सभी रंग एक साथ रहें, फिर चाहे वो भगवा हो, हरा हो, सफेद या फिर काला.’

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?