राकेश टिकैत बोले- गन्ने के पेमेंट न करके योगी सरकार चाहती है आंदोलन करवाना, अखिलेश के न्योते पर दिया ये जवाब

जैसा कि कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों ने आंदोलन को खत्म कर अपने घर वापस चले गए हैं और सरकार ने तीनों कृषि कानून को वापस भी ले लिया है इसके साथ ही किसानों की मांगें भी पूरी की है। लेकिन किसान नेता राकेश टिकैत घर लौटने के बाद भी आराम करने के मूड में नहीं दिख रहे हैं।

up विधानसभा चुनाव 2022 से पहले राकेश टिकैत अब गन्ने के मुद्दे को लेकर योगी सरकार को घेरना चाहते हैं। आपको बता दें इसके साथ ही राकेश टिकैत ने सपा के चीफ अखिलेश यादव के उस ऑफर को भी ठुकरा दिया है जिसमें अखिलेश यादव ने बीकेयू नेता को चुनाव लड़ने का ऑफर दिया था।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा है कि यूपी में सरकार ने वादा किया था कि वह 14 दिन में गन्ने का भुगतान कर देगी लेकिन सरकार अभी तक अपने वादे पर खरी नहीं उतरी है किसानों का अब भी गन्ना मीनू के ऊपर काफी रकम बकाया है।

आपको बता दें राकेश टिकैत आगे कहते हैं सरकार झूठा प्रचार कर रही है कि गन्ना किसानों को बकाया मिल गया है सरकार ने जो वादा किया था 14 दिन में गन्ने का भुगतान हो जाएगा वह कहां है? किसानों को 14 दिन में पैसे नहीं मिल रहे हैं। आगे कहते हैं कि योगी सरकार किसानों से आंदोलन करवाना चाह रही है किसानों का भुगतान ना करके।

सपा चीफ अखिलेश यादव ने कहा था कि राकेश टिकैत किसी राजनीतिक दल की तरह काम नहीं करते हैं। वह सिर्फ किसानों के बारे में बात करते हैं अगर उनको चुनाव लड़ना है तो सपा उनका स्वागत करती है। उनके इस ऑफर के जवाब में राकेश टिकैत कहते हैं कि जिनको चुनाव लड़ना है लड़े हमें नहीं लगना ऑफर के लिए धन्यवाद।

विज्ञापन