भोपाल में NSUI कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने भांजी लाठियां

कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में शिक्षा नीति के खिलाफ विरो’ध प्रदर्शन किया था। इस प्रदर्शन में छात्र संगठन कार्यकर्ताओं से पोलिस के बीच में झड़प हो गई। इसी के बाद पुलिस ने छात्र संगठन के कार्यकर्ताओं की भीड़ को तितर बितर करने के लिए वहीं पर लाठीचार्ज शुरू कर दी।

NSUI के कार्यकर्ताओं ने शिक्षा मुद्दे को लेकर MP के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आवास पर भी घिराव करने की योजना बनाई। इस कारण NSUI के कार्यकर्ता दोपहर को 12 बजे कांग्रेस कार्यालय के बाहर एक जुट हुए। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और वरिष्ठ नेताओं ने इस मौके पर सभी कार्यकर्ताओं को संबोधित भी किया था।

फिर एनएसयूआई कार्यकर्ता मुख्यमंत्री आवास का घे’राव करने के लिए चल दिए। प्रदर्श’नकरियों को रोकने के लिए पुलिस ने बैरिकेड्स भी लगाई जिससे भीड़ को थाम सके लेकिन जब पुलिस की कोशिश ज़ाया आई तो पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच एक झड़प भी हो गई जिसमे पुलिस को लाठी’चार्ज करना पड़ा जिससे की प्रद’र्शन करने वाले कार्यकर्ता पीछे हट जाए। लेकिन फिर कार्यकर्ता पीछे हटने को तैयार नहीं थे तो जबरन पुलिस ने गिर’फ्तार कर बस में बैठा दिया था।

एनएसयूआई कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किए जाने को लेकर कांग्रेस नेता कमलनाथ ने मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार पर जमकर हम’ला बोला। ट्वीट करते हुए लिखा कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हज़ारों छात्रों पर शिवराज सरकार के इशारे पर पुलिस ने बर्बरता पूर्वक लाठीचार्ज किया, उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया, इस लाठीचार्ज में कई छात्र व एनएसयूआई के पदाधिकारी घायल हुए है। साथ ही उन्होंने लिखा कि सरकार छात्रों को रोजगार तो दे नहीं रही, उनकी मांग मान तो नहीं रही लेकिन उन पर बर्बर तरीके से लाठियां ज़रूर बरसा रही है, यह सरकार का तानाशाही रवैया है।

विज्ञापन