नवाब मलिक घिरे 1000 करोड़ रुपये की मानहानि मामले में, कोर्ट ने मांगा जवाब

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने आर्यन खान ड्र,ग्स केस की जांच कर रहे एनसीबी अधिकारी समीर वानखेडे को लेकर कई खुलासे किए हैं। लेकिन अब नवाब मालिक के लिए भी कई मुश्किलें बढ़ गई हैं। मुंबई की सेंट्रल कोऑपरेशन बैंक ने नवाब मलिक के खिलाफ 1000 करोड़ रुपये की मानहानि का मामला दर्ज किया है।

इस मामले में एनसीपी नेता नवाब मलिक को और सात अन्य लोगों को जवाब देने के लिए 6 हफ्तों का समय दिया गया है। बैंक की ओर से अधिवक्ता अखिलेश चौबे ने बताया है की 1 से 4 जुलाई के बीच नवाब मलिक की ओर से बैंक के खिलाफ कई होर्डिंग मुंबई की सड़कों पर लगाए गए थे।

इन होर्डिंग से बैंक की विशेषता को नुकसान पहुंचा है। अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा बैंक इस मामले में नवाब मलिक को नोटिस भी भेजेगा लेकिन उन्होंने होर्डिंग उतारने से इनकार कर दिया है और नोटिस वापस लेने को कहा है।

इस मामले में देखा जाए तो माफी मांगने का कोई सवाल नहीं उठता है। इस होर्डिंग की विषय में राकांपा नेता की ओर से कोर्ट में कहा गया है कि ना तो मैं और ना ही मेरी पार्टी इस मामले में किसी भी तरह से जुड़ी है और होल्डिंग्स उनकी ओर से नहीं लगाए गए हैं। उन्होंने कहा की उन्हें झूठे मामले में फंसाया जा रहा है।

विज्ञापन